हाईकोर्ट ने कहा:नर्स ग्रेड द्वितीय भर्ती-2018 के खेल कोटे में नियुक्ति क्यों नहीं दी

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हाईकोर्ट ने नर्स ग्रेड द्वितीय-2018 की भर्ती में प्रार्थी को खेल कोटे में नियुक्ति से वंचित करने पर प्रमुख चिकित्सा सचिव, स्वास्थ्य निदेशक व एमेच्योर कबड्डी फेडरेशन के सचिव से 11 नवंबर तक जवाब मांगा है। वहीं अदालत ने खेल कोटे में एक पद खाली रखने का निर्देश दिया है। जस्टिस महेन्द्र गोयल ने यह निर्देश गुरुवार को मेहरगुल हक की याचिका पर दिया।

अधिवक्ता लक्ष्मीकांत शर्मा ने बताया कि प्रार्थी ने साल 2010 में 57वीं राष्ट्रीय कबड्डी चैंपियनशिप में दूसरा स्थान प्राप्त किया था। वहीं प्रार्थी ने नर्स ग्रेड द्वितीय भर्ती में भी खेल कोटे से आवेदन किया, लेकिन विभाग ने दस्तावेज सत्यापन के बाद उसे यह कहते हुए नियुक्ति देने से मना कर दिया कि उसके पास खेल प्रमाण पत्र का कोई ऑनलाइन डाटा नहीं है। इसे हाईकोर्ट में चुनौती देते हुए कहा कि साल 2010 तक किसी भी खेल प्रतियोगिता कोई ऑनलाइन डाटा मौजूद नही है ,क्योकि खेल विभाग ने वर्ष 2012 से खेल प्रमाण पत्रों का ऑनलाइन डाटा रखना शुरू किया है।

खबरें और भी हैं...