पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Will Not Go To BJP, Dropping Me In The Eyes Of High Command, Gehlot Said; Pilots Were Involved In Toppling The Government, There Was A Deal Of 20 Crores, There Is Evidence

पायलट ने कहा:भाजपा में नहीं जाऊंगा, हाईकमान की नजरों में मुझे गिरा रहे, गहलोत बोले; सरकार गिराने में जुटे थे पायलट, 20 करोड़ का सौदा था, सबूत हैं

जयपुर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट। (फाइल फोटो)
  • गहलोत ने कहा- सोने की छुरी प्लेट में खाने के लिए नहीं होती

राजस्थान कांग्रेस में बगावत पर उतरे सचिन पायलट पर बुधवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहली बार सीधा हमला करते हुए गंभीर आरोप लगाए। कहा- पायलट भाजपा के साथ मिलकर सरकार गिराने की साजिश में लगे थे। 20 करोड़ का सौदा था। मेरे पास इसके सबूत भी हैं। वे बोले- सोने की छुरी प्लेट में खाने के लिए नहीं होती, अब आप समझ जाओ।

दूसरी ओर, डिप्टी सीएम व प्रदेशाध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद ट्विटर पर एक लाइन में जवाब देने वाले पायलट भी मुखर हो गए। उन्होंने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा- हाईकमान की नजर में गिराने के लिए कुछ नेता मेरे पाला बदलने की अफवाह उड़ा रहे हैं। मैं भाजपा में नहीं जा रहा। मेरी गहलोत से कोई नाराजगी नहीं, लेकिन उन्होंने मेरी आवाज को दबा दिया। 

पायलट बोले- स्वाभिमान वापस चाहता हूं

  • मुख्यमंत्री पद सहित मेरी कोई लालसा नहीं। मैं गहलोत से गुस्सा नहीं हूं, न ही किसी तरह का पद या पावर चाहता हूं। मैं तो पार्टी में खोया स्वाभिमान वापस चाहता हूं।
  • काम नहीं करने दे रहे थे। अफसरों को निर्देश मानने से रोका। फाइलें मेरे पास नहीं भेजी जाती थीं। ऐसे पद का क्या मतलब जब वादे पूरे नहीं कर सकता?
  • भाजपा नेताओं से नहीं मिला हूं। बल्कि पिछले छह महीने से तो न ज्योतिरादित्य सिंधिया और न ही भाजपा के नेता ओम माथुर से मेरी मुलाकात हुई है।
  • राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष पद से हटने के बाद से गहलोत और उनका खेमा मुझे हाशिए पर धकेल रहा है। राज्य पुलिस ने मुझे एक नोटिस दिया, जिसमें राजद्रोह के आरोप थे।

गहलोत का तंज- इनकी रगड़ाई नहीं हुई

  • सोने की छुरी खाने के लिए नहीं होती। अच्छी अंग्रेजी बोलने और स्मार्ट दिखने से कुछ नहीं होता। दिल में क्या है, कमिटमेंट क्या है, ये सब देखा जाता है।
  • बेबुनियाद आरोप हैं। मैंने कभी किसी अधिकारी को ऐसे आदेश नहीं दिए। सीएम की मंजूरी के बिना पायलट ज्यादातर वक्त दिल्ली, लंदन और अन्य जगहों पर रहते हैं।
  • सरकार गिराने की साजिश भाजपा से मिलकर रच रहे थे। राज्यसभा चुनाव में विधायक होटल में रखे। ऐसा नहीं करते तो मप्र की तरह लोकतंत्र की हत्या होती।
  • नई पीढ़ी से हम प्यार करते हैं। कल उनका है। हमारी 40 साल पुरानी लीडरशिप की रगड़ाई हुई थी। इनकी रगड़ाई नहीं हुई थी, केंद्र में मंत्री बन गए। अगर रगड़ाई हुई होती तो और अच्छा काम करते।

36 विधायक टूटें तो नई पार्टी बना भाजपा के साथ सरकार संभव

पायलट ने अभी सारे पत्ते नहीं खोले हैं। वह कई विकल्प खंगालने में जुटे हैं। बुधवार तक की स्थिति को देखते हुए उनके सामने ये तीन विकल्प दिख रहे हैं।

1. कांग्रेस में वापसी: संभावना है। पर गहलोत की आक्रामकता देखते हुए अभी पायलट की वापसी के रास्ते लगभग बंद दिख रहे हैं। अगर लौटे भी तो राजस्थान में सक्रिय नहीं रह सकेंगे।
2. भाजपा में एंट्री: यह विकल्प खुला है। पर वह भाजपा में जाने से इनकार कर चुके हैं। स्थानीय समीकरण देखकर साथी विधायक भी सीधे तौर भाजपा में जाने से मना कर रहे हैं।
3. नई पार्टी बनाना: कांग्रेस के 107 में से 36 विधायक तोड़कर पायलट अलग पार्टी बना सकते हैं। भाजपा के समर्थन से सीएम बन सकते हैं। इसकी संभावना अधिक है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें