महिलाओं ने सज-धज कर मनाया सौभाग्य दिवस:कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी बुधवार को नरक चतुर्दशी, छोटी दिवाली और रूप चौदस के रूप में मनाई गई

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दिवाली पर्व पर भास्कर के लिए मिस राजस्थान-21 मानसी राठौड़, अंजली जोधा, प्रेक्षा पूर्णम, सेजल अरोड़ा, अंशिका चौधरी ने रूप चौदस पर स्पेशल फोटो शूट कराया - Dainik Bhaskar
दिवाली पर्व पर भास्कर के लिए मिस राजस्थान-21 मानसी राठौड़, अंजली जोधा, प्रेक्षा पूर्णम, सेजल अरोड़ा, अंशिका चौधरी ने रूप चौदस पर स्पेशल फोटो शूट कराया

कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी बुधवार को नरक चतुर्दशी, छोटी दिवाली और रूप चौदस के रूप में मनाई गई। यम पूजन कर यमदीप दान किया गया। घर के मुख्य द्वार के बाहर तिल के तेल का चौमुखी दीपक जलाया गया। इससे पूर्व गृहलक्ष्मियों ने धन की देवी मां लक्ष्मी के स्वागत के लिए उबटन किया और सजी-संवरी। धार्मिक मान्यता है कि महिलाओं के रूप चतुर्दशी को शृंगार करने से घर में सुख-समृद्धि और लक्ष्मी का वास होता है। वहीं, लक्ष्मी जी के मंदिरों में विशेष आयोजन हुए। यहां लक्ष्मी का नख से शिख तक शृंगार किया गया।

श्रीमन् नारायण प्रन्यास मंडल की ओर से सीकर रोड ढेहर के बालाजी स्थित श्रीमन्न नारायण धाम में महामंडलेश्वर पुरुषोत्तम भारती के सान्निध्य में बुधवार को रूप चतुर्दशी पर लक्ष्मी जी का विशेष शृंगार किया गया। पानो का दरीबा स्थित श्री शुक संप्रदाय आचार्य पीठ सरस निकुंज में बुधवार को शुक संप्रदायाचार्य पीठाधीश्वर अलबेली माधुरी शरण महाराज के सान्निध्य में रूप चतुर्दशी मनाई गई।

ठाकुर राधा सरस बिहारी सरकार के विशेष उबटन लगाकर चंदन श्रृंगार किया गया। आचार्य चरण पादुका का अर्चन सेवा भी की गई। दीपावली पर ठाकुर जी का मणिमय श्रृंगार और पुष्प श्रृंगार किया जाएगा। रात्रि को चौसर झांकी सजाई जाएगी। पांच नवंबर को गोवर्धन पूजन होगा।

खबरें और भी हैं...