उत्तरी राजस्थान में कल से घने कोहरे की चेतावनी:गंगानगर, हनुमानगढ़ में 3 दिन का येलो अलर्ट; तापमान बढ़ने से सर्दी से मिली राहत

जयपुर6 महीने पहले
अलवर में कोहरा छाने से विजिबिलिटी काफी कम हो गई। कुछ दूरी पर ट्रेन की पटरियां भी धुंधली दिखाई दीं।

पिछले 4 दिन से पड़ रही कड़ाके की सर्दी से बुधवार को लोगों को राहत मिली है। जयपुर, कोटा, चूरू, सीकर समेत राजस्थान के सभी शहरों में न्यूनतम तापमान 1 से लेकर 3 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया। पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर में बीती रात पारा 10 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज हुआ। मौसम विभाग ने 23 दिसंबर से अगले तीन दिनों तक उत्तरी राजस्थान के श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, बेल्ट में घना कोहरा पड़ने की संभावना जताई है। विभाग ने इन जिलों के लिए येलो अलर्ट भी जारी किया है। कोहरे के कारण इन एरिया में विजिबिलिटी 100 मीटर तक रह सकती है।

जयपुर मौसम केन्द्र से मिली रिपोर्ट के मुताबिक जम्मू-कश्मीर, हिमाचल बेल्ट में हाल ही में एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हुआ है। विक्षोभ ने उत्तर भारत से आ रही सर्द हवाओं का दिशा बदल दी। इसी कारण राजस्थान में तापमान अब बढ़ने लगा है। मौसम विभाग की मानें तो विक्षोभ का असर 25 दिसंबर से मैदानी इलाकों में भी देखने को मिल सकता है। राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा के कई एरिया में 25 दिसंबर से हल्के बादल छा सकते हैं। इसका असर 2-3 दिन बना रहेगा।

दो दिन में पारा 4-5 डिग्री तक बढ़ा
राजस्थान में बीते दो दिन की स्थिति देखें तो न्यूनतम और अधिकतम तापमान में 4 से 6 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ोतरी हुई। चूरू, सीकर, फतेहपुर, करौली में जहां माइनस में तापमान था। वहां भी 4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। पिलानी, कोटा, जयपुर, सीकर, उदयपुर, चूरू में दिन का अधिकतम तापमान 20 से 21 डिग्री सेल्सियस के आसपास था, जो बढ़कर अब 25 से 27 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।

प्रमुख शहरों का आज का तापमान

शहरअधिकतमन्यूनतम
करौली24.13.3
चूरू26.43.5
सीकर254.7
अलवर23.85
चित्तौड़गढ़26.25.2
हनुमानगढ़22.25.3
भीलवाड़ा26.35.4
धौलपुर24.25.5
जालौर28.85.8
नागौर26.55.9
सवाई माधोपुर23.86
बूंदी247
उदयपुर26.27
जोधपुर287.4
गंगानगर257.4
बीकानेर288
जयपुर24.48.1
डूंगरपुर28.8.7
सिरोही28.48.8
अजमेर27.38.7
कोटा25.49.2
बाड़मेर28.610.7
जैसलमेर27.211

राजस्थान में रिकॉर्ड तोड़ सर्दी, मौसम विभाग की भविष्यवाणी फेल:4 दिन बाद फिर से कड़ाके की ठंड पड़ेगी, जानिए पारा क्यों गया माइनस में

खबरें और भी हैं...