रेलवे कर्मचारियों के लिए राहत की खबर:अगले तीन महीने तक वेतन वृद्धि के लिए कर सकते हैं आवेदन

जयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रेलवे बोर्ड ने कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे एम्प्लॉइज यूनियन के संयुक्त सचिव सुभाष पारीक ने बताया कि जेसीएम नेशनल काउंसिल (स्टाफ साइड) सचिव शिवगोपाल मिश्रा और सदस्य मुकेश माथुर ने विकल्प का एक और अवसर प्रदान करने के लिए रेलवे बोर्ड से कहा। माथुर ने बताया कि 1 जनवरी 2016 से पहले रेलकर्मियों को लगातार छह महीने नौकरी करने पर हर साल वेतन वृद्धि (इंक्रीमेंट) 1 जुलाई को दी जाती थी। सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुसार वर्ष मे 2 बार अर्थात 1 जनवरी एवं 1 जुलाई को वेतन वृद्धि देने का प्रावधान किया गया। वित्त मंत्रालय ने आदेश जारी किया कि 1 जनवरी 2016 के बाद पदोन्नत या आर्थिक रूप से प्रोन्नत कर्मचारियों को विकल्प देने का अवसर दिया जाए। जिसमें यदि कर्मचारी पदोन्नति या आर्थिक प्रोन्नति पर अपनी वेतनवृद्धि की 1 जुलाई से 3 माह के अंतर्गत वेतन निर्धारण का विकल्प देता है, तब उसे 6 महीने की नियमित सेवा पूर्ण करने पर अगली वेतन वृद्धि 1 जनवरी को दी जाएगी।

उत्तर पश्चिम रेलवे के विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों जिन्होंने 3 महीने के अंतर्गत विकल्प दिया, उन सभी कर्मचारियों के वेतन में इंक्रीमेंट लगा दिया है। जिन्होंने इंक्रीमेंट के लिए ऑप्शन नहीं दिया था, उन्हें विकल्प देने का एक और अवसर प्रदान दिया जाना चाहिए। रेलवे बोर्ड ने हाल ही में उत्तर पश्चिम रेलवे सहित सभी जोनल रेलवेज को आदेश जारी किया कि सभी कर्मचारियों को अगले 3 महीने तक वेतन निर्धारण हेतु विकल्प देने का अवसर दिया जाए।

खबरें और भी हैं...