पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

टूटी सड़कें:दिल्ली मुम्बई हाइवे कम्पनी के भारी वाहनों से पहले टूटी सड़कें, अब उड़ते धूल के गुबार

पापड़दा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली मुम्बई निर्माणाधीन हाइवे के लिए मिट्टी का परिवहन करने वाले भारी वाहनों से अब सडकों का कई जगहों पर तो डामर सड़क होने के कोई सबूत ही नहीं है इसके अलावा अब सडकों की बदतर हालत के बाद अब इन भारी वाहनों के गुजरने से अब टायरों के नीचे से पत्थरों की गिट्टियों के उछटने लगी है तो गत दिनों बारिश में इन वाहनों के आवागमन से गहरे गढ्ढे होने से ग्रामींण क्षेत्र की सडकें बदहाल हो गई।पहले बीघावास मोड से आलूदा तक की डामर सडक पर लोगों को सफर करने में कम ही परेशानी आती थी लेकिन जब से हाईवे का का निर्माण कार्य शुरू हुआ है तब से इस पर एक वाहन में 30 से 35 टन तक मिट्टी का परिवहन इन ग्रामींण सडकों से करते हैं। जिससे इन सडकों की डामर का तो नामोनिशान ही मिट गया और कंक्रीट निकल आए और कंक्रीट से अब वाहनों के आवागमन से धूल उडती है। लेकिन हाईवे कम्पनी के अधिकारियों द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है। कई जगह तो जहाँ सडकों के किनारे किसानों की बाजरे की फसलें हो रही है उन फसलों में इतनी धूल मिट्टी भर गई ऐसे में उनके लिए फसल काटना भी मुश्किल काम है। लालसोट रोड से लाडलीकाबास आलूदा , नांगलराजावतान से बागपुरा छारेडा, बागपुरा से लाडलीकाबास, के अलावा गावों में अनेक रास्ते ऐसे है जो इनके आवागमन के चलते बदहाल हो गए। भारी वाहनों के आवागमन से डामर सडकों का कचूमर निकल गया और पत्थर की गिट्टियां निकल आई जिसके चलते दुपहिया वाहन चालकों के फिसलने का खतरा दिनों दिन बढता जा रहा है। यह समस्या रात के समय अधिक घातक हो रही है। बदहाल सडकों के चलते रात का सफर वो ही लोग करते हैं। जिनके सामने कोई मजबूरी हो।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें