रणथम्भौर नेशनल पार्क:गर्मी आते ही हुई पानी की कमी, विभाग ने टैंकरों से शुरू की सप्लाई, स्थाई समाधान के तौर पर लगवाए जा रहे है सोलर प्लांट

सवाई माधोपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रणथम्भौर नेशनल पार्क - Dainik Bhaskar
रणथम्भौर नेशनल पार्क

गर्मी आते ही सभी जगह पानी की किल्लत आ जाती है। इससे रणथम्भौर नेशनल पार्क भी अब अछूता नहीं है। फिलहाल पार्क में वन्यजीवों के लिए पेयजल व्यवस्था हेतु 200 पॉइंट है। जिनमें से 120 पॉइंट नेचुरल है जबकि 80 पॉइंट विभाग की ओर से बनाए गए हैं। फिलहाल गर्मी के चलते इन नेचुरल पांइट्स पर पानी की कमी हो गयी है।

रणथम्भौर नेशनल पार्क में गर्मी के चलते पेयजल संकट गहराने लगा है। हालांकि वन विभाग की ओर से वन्यजीवों को पानी की व्यवस्था के लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। गर्मी के कारण रणथम्भौर में प्राकृतिक जल स्त्रोत सूखने लगे हैं। इसका मुख्य कारण पिछले साल बारिश की कमी है। यह प्राकृतिक जल स्त्रोत पिछली साल पूरी तरह से भऱ नहीं पाए थे।

रण की तलाई में टी-105 पानी पीकर लौटता हुआ
रण की तलाई में टी-105 पानी पीकर लौटता हुआ

जिसकी वजह से पार्क में स्थित प्राकृतिक स्त्रौतों में पानी कमी आई है। जिस कारण रणथम्भौर में वन्य जीवों के लिए पेयजल किल्लत बनी हुई। फिलहाल ऐसे पाइन्ट्स पर विभाग की ओर से पानी टैंकर डलवाए जा रहे है। खंडार रेंज,फलोदी रेंज व तालडा रेंज में टैंकर से पानी सप्लाई की जा रही है। पार्क की तालडा रेंज में विभाग के स्वंय के टैंकर से पेयजल आपूर्ति की जा रही है। अन्य जगह निजी पानी के टैंकरों से जलापूर्ति की जा रही है।

स्थाई समाधान के तौर पर सोलर पंप लगवाये जा रहे है

पार्क में विभाग की ओर से पानी किल्लत से निजात दिलवाने स्थाई विकल्प भी तलाशे गये है। जिसमें वन विभाग की ओर पार्क में सोलर प्लांट लगवाये जा रहे है। पिछले वित्तिय वर्ष में विभाग की ओर से 25 सोलर प्लाटं लगवाए जा चुके है। इनमें से 8 सोलर पंप सेट गार्डबुक कंजर्वेशन फाउंडेशन की सहायता से लगवाये गये है। जबकी 17 सोलर पंप सेट वन विभाग ने लगवाये है।

पार्क में लगाये गये सोलर पंप
पार्क में लगाये गये सोलर पंप

रणथम्भौर बाघ परियोजना की आरपीटी व कुण्डेरा रेंज में सभी जगह पाइप लाइन बिछायी जा चुकी है। पार्क में अब तक 50 किलोमीटर लाइन बिछायी जा चुकी है। विभाग की ओर खेमचा कुंड से रण के पठार पर पानी सफलतापूर्वक पहुंचा दिया गया है। इसी तरह खंडार, फलौदी और तालड़ा रेंज में सौर पंपों से पाइपलाइन बिछाने का काम शुरू किया गया है। जिससे जल्दी ही पार्क में पेयजल समस्या का स्थाई समाधान हो सकेगा।

इनका कहना है

जिन जगहों पर पानी की कमी है वहां टैंकरों से सप्लाई की जा रही है। समस्या के स्थाई समाधान के तौर पर सोलर पंप लगवाये जा रहे है। आरपीटी व कुण्डेरा रेंज में सभी जगह पाइप लाइन बिछायी जा चुकी है। जबकी फलौदी, खंडार और तालड़ा रेंज में पाइप लाइन बिछाये जाने का काम किया जा रहा है। जल्दी ही यहां पर काम पूरा हो जाएगा।

महेन्द्र शर्मा डीएफओ रणथम्भौर