आयुर्वेद अस्पताल में मरीजों को मिलेगी ऑपरेशन की सुविधा:आयुर्वेदिक पद्धति से होगा पाइल्स बीमारी का ऑपरेशन, 2 डॉक्टर्स को किया अपॉइंट

सवाई माधोपुर9 महीने पहले
जिला आयुर्वेद अस्पताल सवाई माधोपुर।

सवाई माधोपुर में अब पाइल्स के मरीजों का ऑपरेशन आयुर्वेदिक पद्धति से होगा। आयुर्वेद विभाग जल्द ही शहर स्थित आयुर्वेद अस्पताल में आयुर्वेदिक पद्धति से पाइल्स की बीमारी का ऑपरेशन शुरू करने जा रहा है। 2 डॉक्टर्स को ऑपरेशन के लिए अपॉइंट किया गया है।

अब जिला मुख्यालय के पाइल्स से पीड़ित मरीजों को अब इलाज के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। आयुर्वेद विभाग की ओर से इसकी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। यहां आगामी सोमवार से इसके विशेषज्ञ बैठने लगेगे। पहले सात दिन मरीजों को ट्रिटमैंट दिया जाएगा। सात दिन पूरे होने के बाद फिर आयुर्वेद पद्धति से मरीजों के ऑपरेशन किए जाएगे।

आयुर्वेद के अनुसार पाइल्स बीमारी के कारण
आयुर्वेद विभाग के अनुसार पाइल्स की बीमारी की समस्या गर्म खानपान, लंबे समय तक कब्जी, आनुवंशिकता, अनियमित दिनचर्या के कारण होती है। इसके लिए आयुर्वेद औषधालय में क्षार सूत्र विधि से ऑपरेशन किए जाएंगे। इसमें पहले मरीजों की शुगर, बीपी सहित अन्य जांच सामान्य पाए जाने पर मरीज को सामान्य ओटी का ट्रिटमैंट दिया जाता है। इसके बाद क्षार सूत्र विधि से ऑपरेशन किया जाएगा। आयुर्वेद विधि से इस प्रकार से शहर आयुर्वेद औषधालय में पहली बार ऑपरेशन किए जाएंगे।

लेप से तैयार होता है धागा
क्षार सूत्र एक मेडिकेटेड धागा होता है। इसमें तीन औषधियों का लेप किया जाता है। स्नुहि थोर के दूध के 11 लेप, अपामार्ग क्षार के सात लेप और हल्दी के चूर्ण के तीन लेप किए जाते है। इससे क्षार सूत्र धागा तैयार होता है। इस विधि से इलाज के दौरान 10 मिनट से ज्यादा समय नहीं लगता है। रोगी दो से तीन घंटे बाद अपने घर जा सकता है। पहले ही दिन पाइल्स, मस्सा, बवासीर से आराम आ जाता है। दूसरे दिन से मरीज अपने सामान्य कामकाज कर सकता है।

आगामी सोमवार से स्पेशलिस्ट डॉक्टर आयुर्वेद अस्पताल पर बैठने लगेंगे। यह विशेषज्ञ पहले मरीजों को सात दिन की दवा देंगे। जिसके बाद प्रत्येक मरीज के सात दिन पूरे होने पर उनके ऑपरेशन क्षार सूत्र विधि से किए जाएगे। यह ऑपरेशन यहां अब नियमित होंगे। पहले मरीजों को इसके लिए शिविरों का इंतजार करना पड़ता था।
बालकिशन गौतम, उपनिदेशक आयुर्वेद विभाग सवाई माधोपुर।