धोखाधड़ी का केस:कूटरचित दस्तावेज से खातेदारी भूमि की कराई रजिस्ट्री इस्तगासा से चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस

सवाई माधोपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोतवाली थाना पुलिस ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश पर चार लोगों के खिलाफ कूटरचित दस्तावेज से खातेदारी भूमि की रजिस्ट्री कराने का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।इस सम्बन्ध में पीड़ित अभिषेक बैरवा ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष इस्तागसा दायर किया कि प्राथी की मां कमलेश राजरानी की मृत्यु 3 मार्च 2015 को हो गई है।

उनकी बेशकीमती जमीन आलनपुर स्थित खसरा नम्बर 42रकबा 0.100 हैक्टेयर, खसरा नम्बर 44 रकबा 0.1000 हैक्टेयर है। इसमें सिवायचक हिस्सा 3/10 हैक्टेयर का भूमि रुपांतरण हो चुका है। इसका पट्‌टा भी राजरानी के नाम से हैं। शेष खातेदारी भूमि राजरानी के नाम से राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज है।आरोपी कंवरलाल बैरवा, सुनीता बैरवा, अजय कुमार बेदी, नूरदीन ने कूटरचित दस्तावेज तैयार कर राजरानी के फर्जी हस्ताक्षर से रजिस्ट्री करा ली तथा नामांतरण भी खुलवा लिया। न्यायालय ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...