हमारी लाड़ो:कलेक्टर-वन अधिकारियों ने बेटियों से संवाद कर बढ़ाया हौसला

सवाई माधोपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सवाई माधोपुर | कलेक्ट्रेट सभागार में बेटियों से संवाद करते कलेक्टर। - Dainik Bhaskar
सवाई माधोपुर | कलेक्ट्रेट सभागार में बेटियों से संवाद करते कलेक्टर।
  • बेटियों ने बताई समस्याएं, कलेक्टर ने अधिकारियों को दिए समाधान के निर्देश

नवाचार‘‘ हमारी लाड़ो’’ के तहत राबामावि खिलचीपुर की छात्राओं ने कलेक्ट्रेट सभागार एवं कलेक्टर कक्ष में कलेक्टर राजेन्द्र किशन से संवाद किया तथा खुलकर अपनी बात साझा की। इसी प्रकार राबामावि कुस्तला की छात्राओं ने रणथंभौर टाइगर फोरेस्ट के सीसीएफ कार्यालय में सीसीएफ टी.सी. वर्मा, उप वन संरक्षक महेंद्र शर्मा, एसीएफ संजीव शर्मा सहित वन विभाग के अधिकारियों ने एवं बाद में कलेक्टर राजेन्द्र किशन ने पहुंचकर संवाद किया। कलेक्टर से संवाद के दौरान बेटियों द्वारा पुस्तकों के अभाव की जानकारी दिए जाने पर कलेक्टर ने विद्यालयों के संस्था प्रधानों को निर्देश दिए कि पुस्तकालयों में उपलब्ध पुस्तकों को बेटियों को घर घर उपलब्ध करवाई जाए। इसके लिए आदेश भी जारी किए गए हैं।

इसके बाद बेटियों को कलेक्टर ने कलेक्टर कक्ष का भ्रमण करवाया तथा कलेक्टर के कार्य एवं जिम्मेदारियों के बारे में समझाया। खिलचीपुर की बेटियों ने म्यूजियम की भ्रमण कर जैव विविधता के बारे में जानकारी प्राप्त की।बेटियों ने बताई समस्याएं, कलेक्टर ने करवाया समाधान: हमारी लाडो अभियान के तहत कुस्तला की बेटियां का दल वन विभाग के कार्यालय में रहा। यहां वन अधिकारियों ने वन विभाग से संबंधित जानकारी दी। यहां कलेक्टर ने पहुंचकर बेटियों से संवाद किया।

बेटियों ने स्कूल में कमरे कम होने, स्कूल की चारदीवारी नहीं होने की समस्या से अवगत कराया तो कलेक्टर ने तुरंत चारदीवारी मनरेगा से करवाने एवं कक्षाकक्ष समसा से बनवाने का वादा किया। वहीं स्कूल मार्ग पर पानी भरने की समस्या के समाधान के लिए प्रस्ताव बनवाकर कार्य करवाने की बात कही। इस मौके पर वन विभाग के अधिकारियों ने बाघ, बाघ परियोजना, टाइगर फोरेस्ट सहित वन्य जीवों की सुरक्षा के लिए किए गए प्रयासों सहित अन्य कार्यों के बारे में जानकारी दी। इसी प्रकार मलारना चौड, मलारना डूंगर सहित अन्य स्थानों पर भी हमारी लाडो के तहत बेटियों को विभिन्न कार्यालयों का भ्रमण करवाकर कार्यप्रणाली की प्रेक्टिकल जानकारी दी

खबरें और भी हैं...