राष्ट्रीय ध्वज का हो रहा अपमान:कलेक्टर के बाद अब राज्यपाल से की शिकायत, किसान आंदोलन के धरना-स्थल पर रात में भी लगा रहता है तिरंगा

सवाई माधोपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धरना स्थल पर रात के समय लगा राष्ट्रीय ध्वज। - Dainik Bhaskar
धरना स्थल पर रात के समय लगा राष्ट्रीय ध्वज।

सवाई माधोपुर जिला मुख्यालय के बाहर किसान आंदोलन के धरना स्थल पर राष्ट्रीय ध्वज के अपमान की शिकायत भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष ने राज्यपाल से की है।

एडवोकेट बजरंग लाल जाट पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा ने बताया कि जिला प्रशासन की नाक के नीचे राष्ट्रीय ध्वज का अपमान निरंतर जारी है। कलेक्ट्रेट के मुख्य गेट के सामने किसान आंदोलन का टेंट लगा हुआ है। जिसके सामने मुख्य सड़क डिवाइडर के खंभे पर कई महीनों से राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा बंधा हुआ है। जो रात के समय में भी बंधा हुआ लहराता है।

एडवोकेट ने बताया कि टेंट के सामने आन्दोलनकारियों का एक चौपहिया वाहन भी खड़ा रहता है। इस वाहन पर भी राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा बंधा रहता है। जो रात में भी लहराता रहता है। रात के समय भी मुख्य सड़क पर वाहनों का आवागमन बना रहता है। जिनके प्रदूषण से राष्ट्रीय ध्वज गंदा हो रहा हैं। रात के समय कोई मनचला व्यक्ति राष्ट्रीय ध्वज को फाड़ भी सकता है। रात के समय में राष्ट्रीय ध्वज फहराना ध्वज संहिता के अनुसार अपमान की श्रेणी में आता है।

एडवोकेट ने बताया कि पूर्व में उन्होंने कलेक्टर से 30 मार्च 2021 को लिखित में इसकी जानकारी दी थी। जिसके बाद अभी तक राष्ट्रीय ध्वज का अपमान निरंतर जारी है। इसी प्रकरण में उन्होंने 29 सितंबर को रात 8:51 बजे मौके की फोटो अपने मोबाइल में खींची है। जिसे संलग्न कर ई-मेल से राज्यपाल राजस्थान व सरकार के उच्चाधिकारियों को ज्ञापन भेजा है।

खबरें और भी हैं...