सफाई कर्मचारियों की हड़ताल से बिगड़ी सफाई व्यवस्था:सफाई नहीं होने से कस्बे में लगे कचरे के ढेर, सड़क पर बह रहा गंदा पानी

सवाई माधोपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नाली में कचरा जमा होने के कारण सड़क पर बहता गंदा पानी। - Dainik Bhaskar
नाली में कचरा जमा होने के कारण सड़क पर बहता गंदा पानी।

चौथ का बरवाड़ा ग्राम पंचायत के सफाई कर्मचारियों द्वारा दीपावली से पहले 1 नवंबर को की गई हड़ताल भाई दूज के दिन भी जारी है। इस दौरान ग्राम पंचायत प्रशासन की ओर से दो बार सफाई कर्मचारियों से वार्ता की गई, लेकिन वार्ता सफल नहीं हुई। इस दौरान कस्बे में सफाई नहीं होने से कई जगहों पर गंदगी के ढेर लगे हैं। नालियों में कचरा फंसने से पानी सड़क पर बहने लगा है। दीपावली के त्योहार पर भी कस्बे में जगह-जगह गंदगी नजर आ रही थी।

बता दें कि ग्राम पंचायत के करीब 35 सफाई कर्मचारी अपनी वेतन संबंधी मांगों को लेकर हड़ताल पर चल रहे हैं। कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें समय पर भुगतान नहीं दिया जा रहा है। वहीं ग्राम पंचायत प्रशासन का कहना है कि सफाई कर्मचारियों को 30 सितंबर तक का भुगतान कर दिया गया है। केवल अक्टूबर का ही भुगतान बाकी है, जिसको लेकर सफाई कर्मचारी 1 नवंबर से हड़ताल पर है।

सरपंच सीता सैनी ने बताया कि वार्ता में कर्मचारियों ने अपनी वेतन संबंधी मांग को दूर रख नई मांग उठा दी। जिसके तहत वह प्रति कर्मचारी 1100 रुपए इनाम की मांग रहे हैं। यह मांग भी अनुचित है। प्रधान संपत पहाड़िया ने बताया कि ग्राम पंचायत द्वारा सितंबर माह तक का भुगतान कर दिया गया है। ऐसे में कर्मचारियों को तुरंत काम पर आना चाहिए।

खबरें और भी हैं...