कलेक्टर पर भारी वनाधिकारी:रोक के आदेश के बाद भी त्रिनेत्र गणेश मंदिर में किए दर्शन, खास लोगों को भी साथ लेकर पहुंचे, आरती के फोटो-वीडियो बनाकर किए शेयर

सवाई माधोपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रोक के बावजूद दर्शन करते। - Dainik Bhaskar
रोक के बावजूद दर्शन करते।

रणथम्भौर त्रिनेत्र गणेश लक्खी मेला कोरोना के चलते इस बार नहीं लग पाया। इसके लिए जिला कलेक्टर ने एक आदेश पारित करते हुए 7 सितंबर से 12 सितंबर तक मंदिर में दर्शनों पर रोक लगा दी थी, लेकिन इसके बावजूद वनाधिकारी कलेक्टर के आदेशों की अवहेलना करते हुए दिखाई दिए। रोक के बावजूद रणथम्भौर त्रिनेत्र गणेश मंदिर के दर्शन करते हुए वीडियो व फोटो शेयर किए गए हैं। वीडियो में रणथम्भौर बाघ परियोजना के एसीएफ संजीव शर्मा अपने कुछ खास लोगों के साथ आरती करते हुए दिखाई दे रहे हैं। जिन्हें वनाधिकारी के चहेतों के शेयर करने के बाद लोगों ने यह चर्चा आम है कि नियम केवल आम के लिए है, खास के लिए नहीं। फिलहाल रणथम्भौर त्रिनेत्र गणेश मंदिर में प्रवेश वर्जित है। अब क्या ऐसे लोगों के खिलाफ करवाई होगी।

रोक के बाद त्रिनेत्र गणेश मन्दिर में वनाधिकारियों के चहेते।
रोक के बाद त्रिनेत्र गणेश मन्दिर में वनाधिकारियों के चहेते।

कोरोना के चलते कलेक्टर राजेन्द्र किशन ने सीमावर्ती जिलों सहित उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश के कलेक्टरों को पत्र लिखकर आने वाले श्रद्धालुओं को रोकने का आग्रह किया था। इसके बावजूद बहुत से पैदल यात्री व कनक दंडवत श्रद्धालु रणथम्भौर त्रिनेत्र गणेश आ गए थे। जिन्हें वन विभाग ने गणेश धाम पर ही रोक लिया था। जिसके चलते वह गणेश मंदिर में अपना ध्वजा अर्पित नहीं कर सकते थे। करीब 5 किमी दूर गणेश धाम से ही त्रिनेत्र गणेश को धोक लगाकर भक्त वापस लौटे।

रणथम्भौर दुर्ग में रोक के बावजूद लोग।
रणथम्भौर दुर्ग में रोक के बावजूद लोग।

मामले कुछ कहने से बचते दिखे अधिकारी

रणथम्भौर के वन अधिकारियों की ओर से पूर्व में भी इसी तरह खास लोगों को कोरोना के समय वीडियोग्राफी कराने का मामला भी सामने आ चुका है। यह मामला सामने आने के बाद अधिकारी कुछ बचते हुए दिखाई। वीडियो में दिखाई दे रहे एसीएफ संजीव शर्मा इस बारे में कहने बचते हुए दिखाई दिए। दैनिक भास्कर के बार बार फोन करने के बाद उन्होंने फोन पिक नहीं किया। मामले के वीडियो व फोटो जिला कलेक्टर राजेन्द्र किशन को भेजने के बाद उन्होंने भी फोन पिक नहीं किया।

रोक के बावजूद लोगों की एंट्री कैसे हुई जांच कराई जाएगी।

टीसी वर्मा, सीसीएफ, रणथम्भौर

खबरें और भी हैं...