पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

श्रद्धालु भाव विभोर:श्रीकृष्ण-सुदामा का प्रसंग सुनकर श्रद्धालु भाव विभोर

सवाई माधोपुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के न्यू मार्केट स्थित श्री कल्याणजी महाराज के मंदिर में चल रही श्रीमद भागवत कथा के दौरान कथावाचक आचार्य छैल बिहारीजी महाराज द्वारा श्रीकृष्ण और सुदामा मित्रता का प्रसंग सुनाया गया। आयोजन से जुड़े रुपेश नामा ने बताया कि इस अवसर पर कथा में श्रीकृष्ण और सुदामा की सजीव झांकी भी सजाई गई। कथावाचक ने प्रसंग सुनाते हुए कहा कि इन श्रीकृष्ण और सुदामा की मित्रता लोगों के लिए प्रेरणादायक है। यह हमें सिखाती है कि हमें जीवन में किन लोगों को अपना मित्र बनाना चाहिए और किन लोगों से दूर रहना चाहिए।

संकट के समय हमारी मदद के लिए तैयार रहने वाला ही हमारा सच्चा मित्र है। दिखावे के मित्र तो कई मिल जाएंगे, लेकिन सच्चा मित्र बड़ी मुश्किल से मिलता है। सच्चा मित्र बिना बोले ही मन की बात को जान लेता है।श्रीकृष्ण द्वारा सुदामा को सिंहासन पर बैठाकर उनके पैर धोने का प्रसंग सुनकर श्रोतागण भाव विभोर हो गए और उनकी आंखें नम हो गई। इस अवसर पर बड़ी संख्या में महिलाएं तथा पुरुष मौजूद थे। कथा के दौरान बीच-बीच में भजनों की मधुर स्वर लहरियों पर श्रोतागण भक्तिरस में झूम रहे थे।

खबरें और भी हैं...