पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस कस्टडी में किसान की मौत से इलाके में तनाव:जमीन विवाद में थाने में की पिटाई,  सिर में चोट आई, जयपुर ले जाते वक्त दम तोड़ा; SP ने माना हिरासत में हुई मौत

सवाई माधोपुर/ चौथ का बरवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के चौथ का बरवाड़ा पुलिस थाने में एकड़ा गांव के एक अधेड़ व्यक्ति की मौत मामलें में सरकार की ओर मामलें न्यायिक जांच के आदेश दिये है। बीते कल इस मामले में SP सुधीर कुमार चौधरी ने देर रात चौथ का बरवाड़ा थाना पहुंचकर यह माना था कि अधेड़ की मौत पुलिस कस्टडी में हुई है तथा दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। जिसके बाद रविवार सुबह थाना के सभी 30 अधिकारियों तथा जवानों को लाइन हाजिर कर दिया गया। इस मामलें में फिलहाल 24 घंटे बाद भी पीडित पक्ष और प्रशासन में मांगो को लेकर सहमति नहीं बनी है।

मामले में मृतक की बेटी राजंती मीणा का आरोप है कि चाचा के इशारे पर ही पुलिस वाले उन्हें उठाकर ले गए थे। पुलिस ने खुद को बचाने के लिए अस्पताल ले जाने का नाटक किया। जबकि SP सुधीर कुमार चौधरी ने बरवाड़ा थाने में मीडिया को बताया की मामला जमीन विवाद तथा आपसी रंजिश का था, लेकिन भजनलाल मीणा की मौत पुलिस कस्टडी में हुई है। पुलिस शनिवार को भजनलाल को थाने लाई थी।

यहां उसके सिर में चोट आ गई। इसके बाद उसे पहले CHC और बाद में जिला अस्पताल सवाई माधोपुर ले जाया गया। यहां से उसे जयपुर रेफर किया गया। जयपुर ले जाते समय रास्ते में उसकी मौत हो गई। SP ने कहा कि दोषियों के खिलाफ मानवाधिकार आयोग की रिपोर्ट के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

नहीं मिला परिजन को शव, न पोस्टमार्टम हो पाया
फिलहाल इस मामले में अभी तक मृतक का शव परिजनों को नहीं मिला है। साथ ही पुलिस मृतक का पोस्टमार्टम भी नहीं करवा सकी है। पुलिस अधिकारी के अनुसार सुबह करीब 11 बजे मृतक का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। इसके बाद मृतक का शव परिजनों को सौंप दिया जाएगा, लेकिन फिलहाल भाजपा की ओर से मुआवजा, आश्रित को सरकारी नौकरी के साथ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग की गई है।

पूरे मामले पर राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा नजरें गढ़ाए हुए है। वहीं इस मामले में पूर्व संसदीय सचिव जितेन्द्र गोठवाल ने प्रशासन को मांगे मांगने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। गोठवाल ने मांगे नहीं माने जाने पर बड़े आन्दोलन की चेतावनी दी है।

पुलिस ने किया अतिरिक्त जाब्ता तैयार
अधेड़ की पुलिस कस्टडी में हुई मौत के कारण उपजे तनाव व कानून व्यवस्था को देखते हुए चौथ का बरवाड़ा में पुलिस का अतिरिक्त जाब्ता तैनात किया गया है। प्रशासन व पुलिस स्थिति को कंट्रोल में करने के लिए आसपास के मीणा समाज के सरपंचों का भी सहयोग ले रही है। वहीं इस मामले को लेकर भाजपा लगातार आक्रामक है तथा हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग कर रही है।

SP सुधीर कुमार चौधरी ने बताया कि अधेड़ की मौत पुलिस कस्टडी में हुई है। ऐसे में थाना प्रभारी मुकेश जैमन, हेड कांस्टेबल सलीमुद्दीन तथा एक कांस्टेबल को सस्पेंड करने के बाद थाने के सभी 30 जवानों तथा थाना प्रभारियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है।

मामले में न्यायिक जांच के आदेश

मामले में सरकार की ओर से न्यायिक जांच के आदेश दिये गये है। जांच कमेटी की जिम्मेदारी बामनवास सीजेएम मनमोहन चंदेल को दी गई है| फिलहाल मृतक का जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में वीडियोग्राफी के साथ पोस्टमार्टम सीजेएम की मौजूदगी में किया जा रहा है। वहीं मामले में क्षेत्रिय विधायक अशोक बैरवा ने मृतक परिवार को 25 लाख रुपए, आश्रित को सरकारी नौकरी व दोषियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की है। फिलहाल 24 घंटे बीत जाने के बाद भी मांगों पर कोई सहमति नहीं बन पाई है।