पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कृषि कानूनों का विरोध:ऊंट व बैलगाड़ी लेकर कलेक्ट्रटे पहुंचे किसान, 3 घंटे प्रदर्शन

सवाई माधोपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में जगह-जगह हाइवे जाम, किसान आंदोलन का कांग्रेस सहित विभिन्न संगठनों का समर्थन
  • चक्काजाम शांतिपूर्ण: 12 से 3 बजे तक प्रदर्शन, अशांति ना हो- चौकस रही पुलिस

देशभर में किसान व अन्य संगठन केन्द्र सरकार की ओर से लाए गए तीनों कृषि कानूनों का विरोध जता रहे हैं। इसी के चलते किसानों की ओर से पूरे देश में शनिवार को एक दिवसीय चक्का जाम का ऐलान किया गया। जगह-जगह मेगा हाइवे पर किसान उमड़े तथा चक्का जाम किया। चक्का जाम में जिले के किसान ऊंट एवं बैलगाड़ी लेकर शामिल हुए। जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट के सामने ऊंट व बैलगाड़ियों को लगाकर मेगा हाइवे को जाम कर दिया। इससे आवागमन बाधित रहा। लोगों को अन्य रास्तों से होकर आवागमन करना पड़ा। जिले भर में जाम पूर्णतया शांतिपूर्ण रहा। किसानों के जाम के दौरान सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस तैनात रही।किसान नेता राकेश टिकैत के आह्वान पर जिले में भी किसानों ने हाइवे जाम किए। सुबह से ही किसान हाथों में तिरंगा लिए तथा ऊंट-गाड़ियों व ट्रैक्टर पर सवार होकर हाइवे पहुंचे। इसके बाद गाड़ियों को हाइवे पर आड़े-तिरछे लगाकर जाम कर दिया। कलेक्ट्रेट के सामने किसान संगठनों ने जाम लगाया। इसके चलते पुलिस बेरिकेड्स लगाकर मेगा हाइवे से यातायात को पोस्टऑफिस रोड पर डायवर्ट किया। यातायात डायवर्ट होने से भारी वाहनों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। किसान लोक गीतों पर अपनी मांगों के समर्थन में ठुमके लगाते लगाते रहे। बीच-बीच में काले कानून वापस लो..., किसान एकता जिंदाबाद के नारे लगते रहे। किसानों के चक्का जाम का कांग्रेस सहित विभिन्न राजनीतिक संगठनों ने भी समर्थन किया।

जाम से वाहनों की लंबी कतार मलारना चौड़| कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन के तहत किसानों द्वारा प्रस्तावित भारत बंद का व्यापक असर आया। लालसोट-कोटा मेगा हाइवे को किसानों ने कई स्थानों पर बंद किया।भाड़ौती| किसान विरोधी तीन बिलों को वापस लेने की मांग को लेकर चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में शनिवार को भाड़ौती में नहर पर किसानों ने हाइवे पर जाम लगा दिया। किसान आंदोलन के समर्थन में भाड़ौती में नहर के पास लगाए गए जाम में सुबह से ही आसपास के किसानों का आना शुरू हो गया। 12 बजते बजते सैकड़ों किसानों हाइवे पर आ गए और पाइप एवं पत्थर डालकर हाइवे पर जाम लगा दिया। 3:00 बजते ही किसानों ने हाइवे जाम हटा दिया। उसके बाद आवागमन सुचारू हुआ।

धरने के बाद हालाम सामान्य सूरवाल| अजनोटी-पढ़ाना मोड़ पर शुक्रवार को कृषि बिलों के विरोध में दर्जनों गांवों के किसानों ने तीन घंटे हाइवे को जाम कर दिया। हाइवे पर बैठकर विरोध प्रदर्शन किया। हाइवे के जाम के दौरान प्रशासन व सूरवाल थाना पुलिस की जाब्ता भी मौजूद रहा। शुक्रवार को सुबह अजनोटी मोड़ पर स्थित हाइवे पर सूरवाल, मैनपुरा, दुब्बी बनास, चकेरी, श्यामपुरा सहित करीब दो दर्जनों गांवों के ट्रेक्टरों एवं बसों से किसानों को आना शुरू हो गया। बाद में दोपहर 12 बजे सभी किसान एकत्र होकर हाइवे पर पहुंचकर वहां बैठ गए।मलारना डूंगर| कस्बे के गंगापुर मोड़ पर किसान आंदोलन के समर्थन में ग्रामीणों द्वारा शनिवार को जाम लगाया गया। दोपहर बारह बजे ग्रामीण गंगापुर मोड़ पर एकत्र हो गए। ग्रामीणों की संख्या बढ़ती गई।बोरदा| कस्बे के समीप घाटा नैनवाड़ी गांव के देवनारायण मंदिर प्रांगण में शनिवार को कृषि कानूनों के विरोध में किसान महापंचायत का आयोजन किया गया। महापंचायत में बामनवास विधायक इंद्रा मीना, किसान नेता मुरलीराम गुर्जर, डॉ. दामोदर गुर्जर, संतोष मीना आदि नेताओं के साथ कृषि कानूनों का विरोध किया।

विधायक के नेतृत्व में विरोध किया छाण| किसानों ने कृषि बिल रद्द करने की मांग को लेकर टोंक-चिरगांव नेशनल हाइवे-552 पर बहरावंडा खुर्द पुलिस चौकी के सामने विधायक अशोक बैरवा के नेतृत्व में किसान नेताओं और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुलिस चौकी के सामने चक्का जाम कर विरोध-प्रदर्शन किया। सांकेतिक धरना देकर करीब 1 घंटे तक किसानों को तीनों कृषि बिलों से होने वाले नुकसान के बारे में बताया। इस दौरान खंडार विधायक अशोक बैरवा ने कहा कि किसानों के लिए जान की बाजी लगा देंगे।खिरनी| कोटा-दौसा हाइवे पर शनिवार को किसानों ने जाम लगाने के बाद खिरनी से सवाई माधोपुर-लालसोट, गंगापुर सहित जाने वाले यात्रियों को काफी परेशानी हुई। कई यात्री अपने निजी वाहनों से भाड़ौती तक जाने के बाद उन्हें वापिस खिरनी लौटना पड़ा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें