पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एफओबी अधूरा:10 साल से एफओबी अधूरा, यात्री पार कर रहे हैं पटरियां

सवाई माधोपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

चौथ का बरवाड़ा कस्बे के रेलवे प्लेटफार्म पर रेलवे की लापरवाही से लोगों को जान जोखिम में डालकर पटरी पार करनी पड़ती है। वहीं इस कार्य से बचने के लिए लाखों की लागत से बनाया जाने वाला एफओबी का कार्य दस सालों से अधूरा पड़ा है। ऐसे में आए दिन लोग पटरी पार करते समय गिट्टियों में टकराकर घायल हो जाते है। साथ ही विकलांग लोगों को तो ट्रेन ही छोड़नी पड़ती है। दस साल पहले चौथमाता मेले पर पटरी बदलने के चलते छह लोगों की मौत हो गई थी।

जिसके बाद यहां पर एफओबी बनाने का कार्य स्वीकृत किया था, लेकिन लापरवाही के चलते आज तक यह कार्य पूरा नहीं हो पाया है।कस्बे में स्थित चौथमाता मंदिर को राज्य के प्रसिद्ध 11 मंदिरों में स्थान आता है। ऐसे में यहां पर हमेशा ही भीड़ रहती है। जिसमें अधिकतर लोग ट्रेनों के जरिए आते जाते है। वहीं स्टेशन पर सुविधाओं की बात करें तो यहां पर प्लेटफार्म बदलने की भी सुविधा नहीं है। स्टेशन पर दो प्लेटफार्म है तथा सुबह व शाम के समय कई ट्रेनों का क्रॉसिंग होता है। रोजाना लोग प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर जाने के लिए जोखिम उठाते है। यह समस्या स्टेशन पर सबसे बड़ी समस्या है।

6 यात्रियों की मौत के बाद दिए थे आदेशप्लेटफार्म बदलने के प्रयास में दस साल पहले जयपुर पुणे एक्सप्रेस की चपेट में छह यात्री जो माता के दर्शन कर वापस जा रहे थे। वो चपेट में आने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। ऐसे में लोगों के गुस्से के बाद यहां पर रेल प्रशासन ने एफओबी के लिए बजट स्वीकृत किया था, लेकिन अभी तक इसका निर्माण कार्य पूरा नहीं होने से लोगों को लाभ नहीं मिल पा रहा है तथा वो जोखिम उठाकर एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर आने को मजबूर है।जयपुर, डीआरएम, नरेंद्र का कहना है कि चौथ का बरवाड़ा में एफओबी बनाने का कार्य किया जा रहा है। यह कार्य काफी लंबे समय से पूरा नहीं हुआ है। जिसके बारे में लगातार शिकायतें प्राप्त हुई है। वर्तमान में अधूरे कार्यों को पूरा करने के लिए निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। आने वाले कुछ ही समय में यात्रियों को इसकी सुविधा दे दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...