पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कालाबाजारी:घरेलू गैस सिलेंडर में 3 से 4 किलो तक गैस कम, उपभोक्ताओं ने किया हंगामा

फलौदी24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सिलेंडर के सील लगी होने के बाद भी गैस पूरी नहीं

कस्बे में सैनी मेडिकल स्टोर के सामने रविवार को एक गैस एजेंसी के कार्मिक अपनी गाड़ी से उपभोक्ताओं को सिलेंडर सप्लाई कर रहे थे। इसमें किसी सिलेंडर में 4 से 3 किलो तो किसी में 2 किलो गैस कम मिली। खास बात यह रही की गाड़ी वाले के पास तौलने वाला कांटा भी नहीं था।

जिसके बाद उपभोक्ता बनवारी लाल बंसल द्वारा सिलेंडर घर पर तौलने पर 2 किलो गैस कम निकलने पर सच्चाई का पता चला, जबकि सिलेंडर के सील भी लगी हुई थी। इस पर उपभोक्ता आक्रोशित हो गए और वहां हंगामा हो गया। इसके बाद दूसरा कांटा पास की दुकान से लगाकर अन्य सिलेंडर भी तौले तो उसमें भी कई सिलेंडरों में कम गैस मिली। हंगामा होने के बाद सिलेंडर लेकर घर गए कुछ उपभोक्ता भी अपने-अपने सिलेंडर वापिस लेकर पहुंच गए और वहां लगे कांटे पर उनको तौलते नजर आए।

एक सिलेंडर में 2 किलो गैस कम ताे 117 रुपए का नुकसान

830 रुपए के हिसाब से सिलेंडर में एक किलो गैस की रेट 58.45 रुपए है। इस तरह से एक सिलेंडर से 2 किलो गैस भी कम दे रहे हैं तो लगभग 117 रुपए का नुकसान सीधा एक उपभोक्ताओं को हो रहा है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि गांवों में हजारों रुपए का उपभोक्ताओं को सीधा चूना लगाया जा रहा है। जहां ग्रामीण इलाकों में वजन को लेकर भी कोई जानकारी भी नहीं रहती है। शहर में फिर भी जागरुक लोग होने के चलते तौल लेते हैं।

खबरें और भी हैं...