पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी खबर:अच्छी खबर : नरेगा में श्रमिकों की संख्या 36 हजार पार, बढ़ रही श्रमिकों की संख्या

सवाई माधोपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मलारना चौड़ कोरोना की मार से बेरोजगार हुए ग्रामीणों को मनरेगा में कार्य मिलने से उमड़ पड़े हैं। एक माह से थमे मनरेगा कार्य धीरे-धीरे पटरी पर लौटने लगे हैं।मनरेगा कार्यो को शुरू करने के लिए राज्य सरकार ने 24 मई को आदेश निकाला था। लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते श्रमिकों की संख्या भी कम थी और पंचायतों के पास भी कोरोना बचाव के लिए पर्याप्त संसाधन नही थे। लेकिन अब 1 जून से शुरू हुए पखवाड़े में श्रमिकों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है।

जिले के 6 ब्लॉक जो किबौली, सवाई माधोपुर, खण्डार, चौथ का बरवाड़ा, बामनवास , गंगापुर सिटी है, जिसमें 229 पंचायतें है । जिनमे 224 पंचायतों में नरेगा के तहत कार्य चल रहा है। जिसमें श्रमिकों की संख्या के नजर से देखे तो सबसे अव्वल पर बौली ब्लॉक है, कुल 52 पंचायतों में से 51 पंचायतों में 11हजार लेबर कार्य कर रही है । गंगापुर सिटी की 44 पंचायतो में 44 पंचायत, बामनवास की 41 में से 38 पंचायतों में, चौथ का बरवाड़ा की 23 में से 23 पंचायतों में, खण्डार की 32 में से 32 पंचायतों में , सवाई की 37 में से 36 पंचायतों में नरेगा कार्य चल रहे हैं।

नए पखवाड़े के तहत 1 जून को श्रमिकों का आंकड़ा 20 हजार पहुंच गया जो कि 6 जून को बढ़कर 36 हजार पार हो गया है। इससे ग्रामीणों को भी रोजगार के लिए शहरों की ओर पलायन नही करना पड़ रहा है । वही अब रबी की फसल कटने के करण अधिकांश ग्रामीण ठाले है । इसमें प्रवासी मजदूरों को भी रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...