300 बेड पर प्लांट से सीधी ऑक्सीजन सप्लाई:रघु शर्मा ने किया जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट का वर्चुअल लोकार्पण, 200 सिलेंडर रोजाना होगा उत्पादन, पाइप लाइन से वार्ड में सप्लाई

सवाई माधोपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में आयोजित वर्चुअल लोकार्पण कार्यक्रम। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल में आयोजित वर्चुअल लोकार्पण कार्यक्रम।

चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने गुरुवार को सवाई माधोपुर के जिला अस्पताल परिसर में नवनिर्मित ऑक्सीजन प्लांट का वर्चुअल लोकार्पण किया। पीएम केयर्स फंड से करीब डेढ़ करोड़ रुपए लागत से निर्मित 200 सिलेंडर प्रतिदिन क्षमता वाला यह प्लांट राज्य के 51 प्लांट में शामिल हैं। इनमें से 41 प्लांट का लोकार्पण वीसी के जरिए डॉ. रघु शर्मा ने किया। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी भी वीसी के माध्यम से कार्यक्रम में शामिल हुए।

डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि पीएम केयर फंड से निर्मित इन ऑक्सीजन प्लांट्स के शुरू हो जाने के बाद राज्य ऑक्सीजन सप्लाई की दृष्टि से अधिक मजबूत हो गया है। कोरोना की पहली लहर में राजस्थान को 17 हजार सिलेंडर प्रतिदिन की आवश्यकता पड़ी। दूसरी लहर में मांग बढ़कर 44 हजार सिलेंडर प्रतिदिन हो गई, लेकिन हमने बेहतर प्रबंधन से इस भीषण चुनौती का भी समाधान कर लिया। प्रदेश में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में बेहतर प्रबंधन की सभी ने सराहना की।

उन्होंने कहा कि राजस्थान के कोरोना प्रबंधन मॉडल की देश के साथ ही विदेशों में भी प्रशंसा हुई है। चाहे सर्वाधिक रिकवरी रेट हो, सबसे कम संक्रमण दर हो या आधारभूत ढांचे या मॉनिटरिंग का मामला हो, हम देश में मॉडल बनकर उभरे हैं। राज्य में संक्रमण के मामले अभी एक-दो ही हैं लेकिन सतर्कता बनाए रखनी है। 18 साल से ज्यादा उम्र के प्रत्येक व्यक्ति को कोविड-19 के दोनों टीके लगाने के लिए प्रचार-प्रसार करते रहे। जिला अस्पताल के सभा कक्ष में मौजूद रहकर कलेक्टर राजेन्द्र किशन, सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीना, पीएमओ डॉ. बीएल मीना ने इस उद्घाटन कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

300 बेड्स पर पाइप लाइन से होगी ऑक्सीजन सप्लाई
पीएमओ ने कहा कि इस प्लांट से अस्पताल के 300 बेड्स पर पाइप लाइन से ऑक्सीजन की सप्लाई होगी। इस प्लांट की क्षमता इतनी है कि प्रतिदिन ऑक्सीजन के 200 बड़े सिलेंडर भर सकते है। अब जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों बिना सिलेंडर के सीधे प्लांट से ऑक्सीजन मुहैया हो सकेगी।

खबरें और भी हैं...