पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेलकर्मियों को फ्रंट लाइन वर्कर घोषित करने की मांग:देशभर के लाखों रेल कर्मचारी पीएम और रेलमंत्री को करेंगे ट्वीट, सभी स्तर पर अभियान की तैयारी करने के लिए कहा गया।

सवाई माधोपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सवाई माधोपुर जंक्शन। - Dainik Bhaskar
सवाई माधोपुर जंक्शन।

जिले सहित देशभऱ के रेल कर्मचारियों की ओर से खुद को फ्रंटलाइन वर्कर्स मानने के लिए ट्विटर पर अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत सोमवार को सुबह 9 बजे से सायं 5 बजे तक देश भर के रेल कर्मचारी सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री, रेल मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, रेलवे बोर्ड को लिखेंगे। इसके लिए पश्चिम मध्य रेलवे में वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन ने व्यापक तैयारी की है।

वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन ने बताया कि यूनियन के नेताओं ने अपने सभी शाखाओं के पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं, युवा शाखा के कार्यकर्ताओं महिला शाखा के कार्यकर्ताओं के साथ में जोनल स्तर पर मंडल स्तर पर एवं शाखा स्तर पर वर्चुअल कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस अभियान की व्यापक तैयारियां की है। जैन ने बताया कि कोरोना महामारी के प्रथम एवं द्वितीय चरण में रेलकर्मचारी ने आगे की पंक्ति में रहकर इस कोविड-19 में अहम भूमिका अदा की है।

24 घंटे की ड्यूटी

कोरोना काल में भी 24 घंटे गाडिय़ों का संचालन कर रेलकर्मचारियों ने अपनी डयूटी पूरी निष्ठा, ईमानदारी से निभाई हैं। यहां तक कि सबसे कठोर लॉकडाउन अवधि के दौरान भी साल 2020- 2021 में भारतीय अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाये रखने में प्रमुख योगदान दिया है।

कोरोना काल में हुई 2 हजार कर्मचारियों की मौत

इस दौरान रेलवे के 1 लाख से ज्यादा कर्मचारी कोरोना से संक्रमित हुए और 2 हजार से ज्यादा कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। ऐसी विषम परिस्थितियों में रेलकर्मचारियों ने कोरोना महामारी में कोरोना वोरियर की भूमिका निभाई है। फिर भी केन्द्र सरकार द्वारा रेलकर्मचारियों को फ्रंटलाइन वर्कर नहीं माना जा रहा है। इससे रेल कर्मचारियों में जबरदस्त आक्रोश है।

गौरतलब है की भारतीय रेलवे में कुल 17 जोन और 73 डिवीजन हैं। जिनमें लगभग 13 से ज्यादा कर्मचारी कार्यरत है जो आज रेलकर्मचारियों को फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में केन्द्र सरकार से मान्यता देने के लिए प्रधानमंत्री, रेल मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, रेलवे बोर्ड को ट्विट करेंगे। इसमें हैशटैग #TreatRailwayEmployeesFrontlineWorker अभियान के तहत रेलकर्मचारी खुद को फ्रंटलाइन वर्कर मानने की अपील करेगे।

खबरें और भी हैं...