भाईदूज पर दंगल:कुश्ती दंगल में मानसिंह श्यामोली बने विजेता

सवाई माधोपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज | भगवतगढ़ - Dainik Bhaskar
भास्कर न्यूज | भगवतगढ़
  • आदलवाड़ा कलां गांव में 30 से ज्यादा कुश्तियां हुई, प्रथम को 51 सौ रुपए पुरस्कार

ग्राम आदलवाड़ा कलां में ग्रामीणों की ओर से भाईदूज के अवसर पर गांव के मैदान में कुश्ती दंगल का आयोजन हुआ, जिसमें दूर दूर से आए पहलवानों ने अपने अपने दांव पेच दिखाते हुए दमखम प्रस्तुत किया। पहलवानों ने एक दूसरे को पटखनी देकर जोर आजमाइश की। दंगल में तीस से अधिक कुश्तियां लड़ी गई।प्रथम कुश्ती 51 सौ रुपए की रखी गई। प्रथम कुश्ती काफी कसमकश भरी रही। जिसमें मानसिंह श्यामोली ने विजय सिंह श्यामोली को पटखनी देकर जीत दर्ज की।

तीसरी कुश्ती 2100 रुपए की रखी गई, जिसमे मनराज रईथा के सामने कोई नही लड़ा। दूसरी कुश्ती 3100 रुपये की नरेश कोथाली एवं राजेश रईथा के बीच लड़ी। जिसमे राजेश के दाव पेंच भारी रहे ओ राजेश ने जीत दर्ज की। दंगल में पहलवानों ने एक दूसरे को पटखनी देकर जीत हासिल की।कुश्ती दंगल में लगभग तीस से अधिक कुश्तियां लडी गई। कुश्ती दंगल में अलीगढ,श्यामोली, खिरनी, मलारना डूंगर सहित अन्य कई स्थानों से पहलवान पहुंचे। कुश्ती दंगल का आनंद लेने के लिए आदलवाड़ा सहित आसपास के गांवों से सैकड़ों दर्शक उपस्थित रहे। गांव के सरपंच विमल कुमार मीणा ने बताया कि ग्रामीणों के सहयोग से आयोजित कुश्ती दंगल का यह 35 वां कार्यक्रम है।

गांव में 1988 से लगातार भाई दूज के मौके पर कुश्ती दंगल का क्रम अनवरत जारी है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संजय बैरवा थे। इस मौके पर प्रधान बरवाड़ा, पूर्व सरपंच एवं जिला परिषद सदस्य धनपाल मीना, सरपंच जौंला जय किशन, हनुमान, बसंतीलाल, राजेश, रामबिलास, कमलेश पहाड़िया, आदलवाड़ा सरपंच व सरपंच संघ अध्यक्ष विमल कुमार एवं अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे। रेफरी श्यामफूल मीना रहे। कार्यक्रम में आयोजकों ने पहलवानों एवं अतिथियों का स्वागत किया। कुश्ती दंगल के बाद पहलवानों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

खबरें और भी हैं...