तेंदुए ने 4 भेड़ों का किया शिकार:रात को बाड़े में बंधी भेड़ों पर किया हमला, लोगों की आवाज सुनकर जंगल में भागा

सवाई माधोपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेंदुए के हमले में मारी गई भेड़। - Dainik Bhaskar
तेंदुए के हमले में मारी गई भेड़।

सवाई माधोपुर जिले के बौंली उपखंड क्षेत्र में करीब एक सप्ताह से तेंदुए की मूवमेंट देखी जा रही है। तेंदुए की मूवमेंट के कारण स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल है। तेंदुए ने बीती रात रवासा गांव में एक बाड़े में बंधी भेड़ों पर हमला कर चार भेड़ों को मार दिया। घटना के बाद स्थानीय लोगों ने वन विभाग से पिंजरा लगाकर तेंदुए को पकड़ने की मांग की है।

जानकारी के मुताबिक मीठालाल गुर्जर अपने खेत पर बने कुएं के पास रहता है। पास ही एक बाड़े में किसी रिश्तेदार की भेड़ें बंधी थीं। रात में अचानक तेंदुए ने हमला कर 4 भेड़ों का शिकार कर लिया। पैंथर की आवाज सुनकर मीठालाल गुर्जर व उसके परिजन जाग गए। जिसके बाद सभी लोगों के आवाज करने की वजह से तेंदुआ वहां से भाग गया। इलाके में लगातार पैंथर के हमलों से लोगों ने दहशत का माहौल बना हुआ।

गौरतलब है कि पहले भी क्षेत्र में तेंदुए के हमलों के मामले सामने आए हैं। गत 19 जून को बनास नदी क्षेत्र में बकरियां चराने गई 2 महिलाओं पर 3 तेंदुओं ने हमला कर दिया था, जिससे दोनों की मौत हो गई थी। इसके बाद तेंदुओं ने घटनास्थल से थोड़ी दूर जंगल में 2 बकरों और 1 बकरी का शिकार भी किया था। इसके अलावा भी कई बार तेदुओं के हमले में मवेशियों की मौत हो चुकी है। कुछ महीने पहले रवासा गांव में भी पिंजरा लगाकर तेंदुए का रेस्क्यू किया था। वन विभाग के अधिकारियों ने ग्रामीणों से वन क्षेत्र में अतिक्रमण नहीं करने व मवेशियों को सुरक्षित बांधने की अपील की है।