जिला अस्पताल में कुत्तों का राज:आवारा कुत्ते रातभर वार्डों में करते हैं धमाचौकड़ी, मरीजों के खाने पीने के सामान को कर जाते हैं चट

सवाई माधोपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल के वार्ड में घूमते कुत्ते। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल के वार्ड में घूमते कुत्ते।

सवाई माधोपुर में अस्पताल के हाल बेहाल हैं। यहां आवारा जानवारों का हमेशा जमावड़ा लगा रहता है। जिला अस्पताल में रात होते ही अवारा कुत्ते अस्पताल में तांड़व करते दिखते हैं। जिसे देखकर लगता है कि जिला अस्पताल में कुत्तों का ही राज है।

सवाई माधोपुर के जिला अस्पताल में हर जगह गाय कुत्तों का जमावड़ा लगा रहता है। अस्पताल में मरीजों के बीच हमेशा कुत्ते व गाय अपनी उपस्थिति दर्ज करवाते हुए दिखाई पड़ते हैं। जिला अस्पताल में जहां गाये दिन में अपीडी के बाहर खड़ी दिखती हैं। वहीं अस्पताल के वार्डों में आवारा कुत्ते रात के अंधेरे में धमा चौकड़ी करते दिखाई देते हैं।

रात को मरीजों के सो जाने के बाद यह कुत्ते उनके खाने पीने के सामान पर फैला देते है। जबकि अस्पताल प्रशासन इन सब के बेखबर बना हुआ हैं। अस्पताल प्रशासन को मरीजों ने इस बारे में कई बार अवगत भी करवाया हैं,लेकिन अस्पताल प्रशासन की उदासीनता के चलते हालत जस के तस बने हुए हैं।

सुरक्षा कर्मियों हैं कमी

जिला अस्पताल के वार्डों में सुरक्षा गार्ड कभी कभार ही नजर आते हैं। जिसके कारण अक्सर इस तरह की समस्या देखने को मिलती है। सुरक्षा गार्डो की कमी के कारण जिला अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था माकूल नहीं है। फिलहाल जिला अस्पताल में 13 सुरक्षा गार्ड तैनात है जो कि इतने बड़े अस्पताल में कम पड़ते है। जिसके अक्सर इस तरह की परेशानी बनी रहती है।

इनका कहना है
फिलहाल अस्पताल में काम चल रहा हैं। जिससे गेट खुले रहते है। इस कारण आवारा जानवर आ जाते है। वैसे रात को सुरक्षा गार्ड भी रहते हैं। वह इन जानवरों को भगाते भी हैं, लेकिन यह फिर से वापस आ जाते है- डॉ. बीएल मीणा, पीएमओ जिला अस्पताल सवाई माधोपुर

खबरें और भी हैं...