पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लैब टेक्नीशियन का अस्थायी पदस्थापन:जिले में 15-15 जीएनएम और लैब टेक्नीशियन का अस्थायी पदस्थापन

सवाई माधोपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी के दौरान जिले में स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ करने के लिए 15-15 जीएनएम और लेब टेक्नीशियन का अर्जेंट टेम्परेरी बेसिस पर अस्थाई पदस्थापन किया गया है। सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीना ने बताया कि भूरी पहाड़ी पीएचसी में भूपेश शर्मा एवं इमरान खान को, बपूंई पीएचसी में पप्पूलाल सैनी को, बहरावंडा खुर्द सीएचसी में इमारानुद्दीन, दिलराज मीना, आरती अखंड को, बहरावंडा कलां पीएचसी में अंतिमा साहू, खंडार सीएचसी में 6 जने ब्रहमसिंह गुर्जर, दीपक बाबू शर्मा, विशाल शर्मा, अंकित तिवाडी, अनंत कुमार शर्मा एवं सोनू बैरागी को, शिवाड़ सीएचसी में मुसेब अहमद तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में मनीष कुमार करसौलियां का जीएनएम पर अस्थायी पदस्थापन किया गया है।

इसी प्रकार स्वास्थ्य केन्द्रों की प्रयोगशालाओं में 15 लेब टेक्निशियनों की नियुक्ति की गई है। इनमें से भूरी पहाड़ी में दिलखुश योगी, लोरवाड़ा में कविता दाधीच, बालेर में सौरभ गुप्ता, ईसरदा में मुकुल कुमार वर्मा, उलियाना में अल्का राणा, उदई खुर्द उदय सिंह गुर्जर, सेलू में रामलखन मीना, बपूई में मिर्जा तालिब, लिवाली में धीरज शर्मा, बहरावंडा कलां में अभिषेक बाबू शर्मा, फलौदी में मीनाक्षी सैन, मलारना स्टेशन में आयुष गोयल, मखौली में बीना कुमार वर्मा, पीपलदा में बुद्धि प्रकाश प्रजापत और मीना बड़ौदा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर गौरव कुमार का यूटीबी के आधार पर लेब टेक्नीशियन के रूप में अस्थाई पदस्थापन किया गया है। सीएमएचओ ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में हुए इन अस्थायी पदस्थापन से पीएचसी और सीएचसी स्तर पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सुविधाओं में विस्तार हुआ है।

खबरें और भी हैं...