पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

टेंडर प्रक्रिया ऑनलाइन:टेंडर प्रक्रिया ऑनलाइन, किंतु दस्तावेज ग्राम पंचायतों में जमा होने से अिवश्वास

सवाई माधोपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मनमानी की आशंका, सरपंचों के चहेते ठेकेदारों को ही मिलेगा काम

व्यवस्था में सुधार के लिए ग्राम पंचायतों में होने वाले विकास कार्यों के टेंडरों को ऑनलाइन कर दिया गया है। लेकिन अब भी जब तक सरपंच नहीं चाहेगा, ठेकेदार टेंडर प्रक्रिया में भाग नहीं ले सकते। मसलन ऑनलाइन आवेदन से पूर्व धरोहर राशि का डीडी, दो साल के टर्नओवर का ऑडिट स्टेटमेंट, जीएसटी की ताजा क्लीयरेंस रिटर्न, निर्माण विभाग के पंजीयन के दस्तावेज की हार्डकॉपी जमा करवानी अनिवार्य है। जिनके ये दस्तावेज पंचायत में जमा नहीं होंगे, उनके ऑनलाइन टेंडर को निरस्त कर दिया जाएगा। बौंली पंचायत समिति क्षेत्र में इन सभी हार्ड दस्तावेजों को जमा करने का काम पंचायतों से ही करवाए जाने की व्यवस्था है और यही वह रास्ता है, जिससे सरपंच किसी भी काम करने की इच्छुक व्यक्ति को इस में भाग लेने से रोक सकता है। इस व्यवस्था को लेकर लोगों में अविश्वास का भाव दिखाई देने लगा है। बौंली पंचायत समिति की पंचायतों में होने वाले विकास कार्यों के लिए की गई व्यवस्था के अनुसार कोई भी ठेकेदार ग्राम पंचायत में ही दस्तावेज जमा करने के लिए बाध्य है, लेकिन वहां पर सरपंच की मनमानी होगी। ऐसे में जिनका सरपंच से विरोध होगा या सेटिंग नहीं होगी वे टेंडरों में भाग ही नहीं ले पाएंगे।इस व्यवस्था के विरोध करते हुए कुछ लोगों ने बौंली पंचायत समिति के विकास अधिकारी को विरोध दर्ज करवाया है। इन लोगों का कहना है कि टेंडर में भाग लेने का अधिकार सभी को मिलना चाहिए। प्रशासन ग्राम पंचायत स्तर पर दस्तावेज लें, लेकिन जिन लोगों के ग्राम पंचायत स्तर पर स्वीकार नहीं किए जाते हैं, उनके दस्तावेज पंचायत समिति स्तर पर भी लिए जाने चाहिए। जिले की अन्य पंचायत समितियों में भी इसी प्रकार की व्यवस्था थी। वहां पंचायत एवं पंचायत समिति दोनों ही स्थानों पर ऑनलाइन टेंडर के हार्ड कॉपी वाले दस्तावेज लिए गए थे। इससे सभी लोगों को टेंडर में भाग लेने का अवसर मिला था।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें