दशहरे पर कोरोना गाइडलाइन का असर:बजरिया में आज दशहरा का मेला नहीं, परंपरा निभाने के लिए रावण का 51 फीट का पुतला जलाएंगे, लेकिन आतिशबाजी नहीं होगी

सवाई माधोपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सवाई माधोपुर। दहशरे की पूर्व संध्या पर रामलीला मैदान की पहाड़ी पर खड़ा रावण का पुतला। - Dainik Bhaskar
सवाई माधोपुर। दहशरे की पूर्व संध्या पर रामलीला मैदान की पहाड़ी पर खड़ा रावण का पुतला।
  • मेला इस बार भी स्थगित कर दिया है, नहीं निकाली जाएंगी शोभायात्राएं

जिला मुख्यालय पर नगरपरिषद सवाई माधोपुर की ओर से आयोजित होने वाला दशहरा मेला इस बार भी कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्थगित कर दिया गया है। गत वर्ष भी कोरोना के कारण ही दहशरा मेले का आयोजन नहीं हो पाया था। जिला मुख्यालय पर बजरिया के दशहरा मैदान में दूसरे साल रावण, कुंभकरण और मेघनाद के पुतलों का दहन नहीं हो पाएगा और ना ही आतिशबाजी देखने को मिलेगी। वहीं रामलीला मैदान के पास ऊंची पहाड़ी पर पुरानी परंपराओं को निभाते हुए नगर रामलीला मंडल समिति शहर सवाई माधोपुर की ओर से साधारण तरीके से कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए 51 फीट ऊंचे रावण के पुतले का दहन किया जाएगा।

रावण दहन से पूर्व शहर और बजरिया दोनों जगहों पर राम दल और रावण दल की शोभायात्रा स्थगित

दहशरे पर रावण दहन से पूर्व शहर और बजरिया दोनों जगहों पर राम दल और रावण दल की शोभायात्रा सजीव झांकियों के साथ विभिन्न मार्गों से होकर निकाली जाती थी। बजरिया में श्री विजयेश्वर नवयुवक रामलीला मंडल द्वारा मानटाउन क्लब से दहशरा मैदान तक शोभायात्रा निकाली जाती थी और इसके बाद वहां रामजी द्वारा रावण के पुतले का दहन किया जाता था। वहीं शहर में भी नगर रामलीला मंडल समिति द्वारा राम दल और रावण दल की सजीव झांकियों के साथ रामलीला मैदान से शोभायात्रा निकाली जाती थी। पहाड़ी पर रामजी द्वारा रावण के पुतले का दहन किया जाता था। गाइडलाइन का पालन करते हुए दोनों ही जगहों पर शोभायात्राओं को स्थगित कर दिया है।

बरवाड़ा: बच्चों ने गली-मोहल्लों में बनाए रावण के पुतले

चौथ का बरवाड़ा| राज्य में इस समय भले ही कोरोना के आंकड़े तेजी से कम हो रहे हैं, लेकिन गाइडलाइन के चलते इस साल भी दशहरे पर रावण दहन का कार्यक्रम नहीं होगा। पिछले साल भी कोरोना संक्रमण के कारण रावण दहन के साथ-साथ मेले का आयोजन नहीं हो पाया था। ऐसे में इस बार भी दशहरे पर ना तो रावण के पुतले का दहन होगा नाही दशहरे का मेला लगेगा। वहीं दूसरी ओर छोटे बालकों ने गली मोहल्लों के लिए छोटे-छोटे रावण के पुतले तैयार किए हैं। कोरोना संक्रमण की गाइड लाइन के चलते दशहरा मेला भी आयोजित नहीं हो रहा है।

गंगापुर सिटी : इस बार भी नहीं होगा रावण दहन

गंगापुर सिटी| नवरात्र पूरे होने के साथ ही अब शुक्रवार को विजयदशर्मी पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। वहीं वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते लगातार दूसरे वर्ष भी नगर परिषद की ओर से होने वाला रावण दहन नहीं होगा। गौरतलब है कि हर वर्ष नगर परिषद की ओर से दशहरा पर्व पर रावण दहन किया जाता है।

खबरें और भी हैं...