सड़क पर बाघ-बाघिनों के दीदार:बाघिन सुल्ताना को देख सैलानी गदगद

सवाई माधोपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रणथंभौर दुर्ग जाने वाले मार्ग पर विचरण करती बाघिन सुल्ताना टी-107। - Dainik Bhaskar
रणथंभौर दुर्ग जाने वाले मार्ग पर विचरण करती बाघिन सुल्ताना टी-107।

इन दिनों रणथम्भौर भ्रमण पर आए सैलानियों को वन क्षेत्र में ही नहीं सड़क पर बाघ-बाघिनों के दीदार हो रहे हैं। बाघ-बाघिन को सड़क पर विचरण करते देख सैलानी खासे रोमांचित हुए। रविवार शाम को रणथम्भौर में सुल्ताना के नाम से विख्यात बाघिन टी-107 त्रिनेत्र गणेश मंदिर जाने वाले मुख्य मार्ग पर विचरण करते दिखाई दी। बाघिन को देख सैलानी खासे रोमांचित हुए। शाम की पारी में पर्यटक जंगल भ्रमण के लिए जोन नम्बर एक से पांच की ओर जा रहे थे। इस दौरान आड़ा बालाजी से सिंहद्वार गेट के बीच इंटरलॉकिंग रोड पर पर्यटक वाहनों की खासी भीड़ थी।

अचानक बाघिन सुल्ताना झाड़ियों से निकलकर टयुरिस्ट की गाड़ियों के बीच से होती हुई सड़क पर आ गई। नजदीक से बाघिन को देख सैलानी खासे रोमांचित हुए। बाघिन लगभग दस मिनट तक इसी क्षेत्र में टहलती रही। इसके बाद जंगल की ओर चली गई। उल्लेखनीय है कि इन दिनों रणथम्भौर के जोन एक से पांच के रास्ते पर बाघिन सुल्ताना टी-107 का मुवमेंट है। रणथम्भौर दुर्ग जाने वाले रास्ते पर कई बार बाघिन सुल्ताना के दीदार श्रद्धालुओं को भी हुए हैं। गणेश श्रद्धालु भी बाघिन को देख खासे गदगद होते हैं।

खबरें और भी हैं...