त्रिनेत्र गणेश लक्खी मेला नहीं लगेगा:7 से 12 सितम्बर तक बंद रहेगा त्रिनेत्र गणेश मंदिर, इस दौरान नहीं कर सकेंगे भक्त दर्शन

सवाई माधोपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
त्रिनेत्र गणेश रणथम्भौर। - Dainik Bhaskar
त्रिनेत्र गणेश रणथम्भौर।

रणथम्भौर में श्रद्धालुओं को इस बार भी भाद्रपद मास की गणेश चतुर्थी को लगने वाले त्रिनेत्र गणेश लक्खी मेला से वंचित रहना पड़ेगा। रणथम्भौर त्रिनेत्र गणेश मंदिर ट्रस्ट व प्रशासन ने कोरोना के चलते इस बार मेला आयोजित नहीं करने का निर्णय लिया है।

इस दौरान 7 से 12 सितम्बर तक मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद रखने का निर्णय लिया गया। जिला कलेक्टर राजेन्द्र किशन ने टोंक, दौसा, करौली, जयपुर और श्योपुर कलेक्टर को पत्र लिखा है। पत्र में समीपवर्ती कलेक्टरों से आग्रह किया हैं कि वह प्रयास करें कि अव्वल तो कोई यात्री त्रिनेत्र गणेश मंदिर के लिए घर से रवाना ही नहीं हो। फिर भी यदि कोई यात्री, पदयात्री, जत्थे रवाना घरों से रवाना हो चुके हैं तो सम्बंधित जिलों में ही रोक कर उन्हें उनकों घरों के लिए लौटाने की कार्रवाई करें।

कलेक्टर ने सवाई माधोपुर जिले के सभी उपखंड अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों को इसके लिए निर्देश दिये हैं। ऐसे पद यात्रियों या वाहन से यात्रा कर रहें श्रद्धालु जो गणेश मंदिर आ रहे हैं, उनके उपखंड या थाना क्षेत्र के एंट्री प्वाइंट पर ही रोक कर उनके घरों के लिये रवाना करें।

कलेक्टर ने इस सम्बंध में रोडवेज अधिकारियों को भी निर्देश दिये हैं कि बस स्टैंडों पर यह सूचना प्रसारित करवायें। उल्लेखनीय है कि जिले में कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिये धारा-144 लगी हुई है। किसी भी प्रकार के धार्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक आयोजन, जुलूस पर रोक हैं। इसके साथ ही गत 10 जुलाई और 16 जुलाई को गृह विभाग की ओर से जारी आदेश के अनुसार किसी भी प्रकार के धार्मिक समारोह, आयोजन पर रोक है।

खबरें और भी हैं...