पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ये कैसी जिम्मेदारी:9 दिन में भी जलदाय विभाग नहीं ढूंढ पाया बदबूदार पानी का कारण

सवाई माधोपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बालेर मार्ग की कॉलोनियों में 9वें दिन भी नलों में आ रहा गंदा व बदबूदार पानी

खंडार उपखंड मुख्यालय पर बालेर मार्ग स्थित कॉलोनियों में नलों में आ रहा गंदा एवं बदबूदार पानी की समस्या का बुधवार को भी समाधान नहीं हुआ है। दैनिक भास्कर में खंडार में सात दिन से बदबूदार पानी सप्लाई, रोज 50 बीमार शीर्षक से समाचार प्रकाशित होने के बाद जलदाय विभाग के अधिकारी जांच पड़ताल में जुट गए है, लेकिन उन्हें अभी सफलता नहीं मिल पाई है। गंदा एवं बदबूदार पानी सप्लाई से मरीजों की संख्या में दिनोंदिन इजाफा हो रहा है। 9वें दिन भी बदबूदार पानी सप्लाई होने पर जलदाय विभाग नहीं ढूंढ पाया बदबूदार पानी का कारण।

कार्रवाई के नाम पर हो रही खानापूर्तिछैलबिहारी, पुष्पेंद्र, राजेश, सुमित सहित अनेक ग्रामीणों ने बताया कि बालेर मार्ग के आसपास वाली कॉलोनियों में शुक्ला तिराहे से गोवर्धन होटल तक पिछले 9 दिन से नलों में आ रहे गंदे एवं बदबूदार पानी की समस्या का अभी कोई समाधान नहीं हुआ है। जिससे लोग इस कोरोना महामारी के बीच गंदा एवं बदबूदार पानी पीने को मजबूर है। उन्होंने बताया कि जलदाय विभाग के अफसरों की लापरवाही के चलते गंदा एवं बदबूदार पानी की समस्या घटने के बजाए दिनोंदिन बढ़ रही है। नलों में पहले से अधिक गंदा एवं बदबूदार पानी आ रहा है। वहीं जलदाय विभाग के अधिकारियों द्वारा कार्रवाई के नाम पर इक्के दुक्के प्राईवेट कार्मिकों को घरों में पूछताछ के लिए भेजकर महज खानापूर्ति ही की जा रही है। ऐसे में समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है।

अस्पताल में पिछले तीन दिन से मरीजों का आउटडोर लगातार बढ़ रहा है वर्तमान में 350 है। जिसमें ज्यादातर मरीज उल्टी, दस्त, पेट दर्द, घबराहट, चक्कर, बुखार आदि के ही आ रहे है।-डॉक्टर रामराज मीणा, प्रभारी सीएचसी खंडार

असर : अस्पताल में बढ़ामरीजों का आउटडोरसामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खंडार में दो दिन पहले जहां मरीजों का आउटडोर करीब 250 था वह अब बढ़कर 350 के आसपास हो गया है। वहीं 50 से अधिक मरीज रोज भर्ती हो रहे है। जिसमें खास बात यह है कि ज्यादातर मरीज उल्टी, दस्त, पेट दर्द, घबराहट, चक्कर व बुखार के ही आ रहे है। हालांकि चिकित्सकों द्वारा अस्पताल में मरीजों की संख्या बढ़ने के पीछे कस्बे में आ रहा गंदा एवं बदबूदार पानी के साथ साथ गर्मी का प्रभाव भी बताया जा रहा है।

आशंका : पेयजल टंकी में तो नहीं गंदगीइस मामले में जलदाय विभाग के अधिकारी भी दुविधा में है, क्योंकि उन्हें पेयजल लाइन में कहीं पर भी लीकेज नहीं मिल पा रहा है। वहीं अधिकारी कॉलोनियों में गंदा एवं बदबूदार पानी पहुंचने की पुष्टि भी कर रहे है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि जब पेयजल लाइन क्षतिग्रस्त नहीं है तो नलों में पहुंच रहा गंदा एवं बदबूदार पानी कहां से आ रहा है, कहीं पेयजल टंकी में ही तो गंदगी नहीं भरी पड़ी है, यह जांच का विषय है। क्योंकि गंदा एवं बदबूदार पानी सप्लाई वाली पेयजल लाइन कार्यालय कैंपस वाले उच्च जलाशय से जुड़ी हुई है। हालांकि पेयजल टंकी में गंदगी की बात से जलदाय अधिकारी मना कर रहे है।^गंदे एवं बदबूदार पानी की समस्या का अभी समाधान नहीं हो पाया है।

हमारी टीम लगातार इस मामले की जांच में जुटी हुई है लेकिन टीम को पेयजल लाइन में कहीं पर भी लीकेज नहीं मिल पाया है। सवाईमाधोपुर से लेबोरेटरी वालों को भी बुलाकर कॉलोनियों में आ रहे गंदे एवं बदबूदार पानी के सेंपल भी करा दिए हैं।-राजेश मीणा, कनिष्ठ अभियंता जलदाय विभाग खंडार

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें