बारिश बनी जी का जंजाल:भारी बारिश से पंप हाउस में पानी भरने से जलापूर्ति रहेगी बाधित, जलदाय विभाग निकाल रहा है पंप हाउस से पानी

सवाई माधोपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंप हाउस में पंप सेट सहीं करते कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
पंप हाउस में पंप सेट सहीं करते कर्मचारी।

मलारना डूंगर उपखंड क्षेत्र में शुक्रवार शाम को हुई तेज बारिश के कारण कस्बे के मलारना चौड़ के मिश्र धर्मशाला के पास स्थित पंप हाउस में पानी भरने से पंप सेट पानी में डूब गए। जलदाय विभाग के कर्मचारी राजेंद्र वैष्णव ने बताया कि पंपसेट पूर्ण रूप से पानी में डूब गए थे अभी पानी निकाला जा रहा है। पंपसेट खराब हो गए हैं। इस कारण जलापूर्ति बाधित रहेगी। पानी में पंप सेट डूबने से वह खराब हो गए हैं जिन्हें सही करवाया जा रहा है।

कस्बे के दोनों उच्च जलाशयों की सप्लाई होती है पंप हाउस से

दस हजार की आबादी वाले कस्बे की जलापूर्ति के लिए जलदाय विभाग के दो उच्च जलाशय हैं। जिनसे 70% कस्बे के करीब 400 कनेक्शनों में जलापूर्ति होती है। ऐसी स्थिति में यदि पंपसेट खराब हो जाते हैं तो एक सप्ताह की जलापूर्ति बाधित हो सकती है जिससे लोगों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

जल निकासी की उचित व्यवस्था नहीं

पंप हाउस क्षेत्र में बरसाती पानी निकासी उचित व्यवस्था नहीं है जिसके चलते पंप हाउस ग्राउंड में बरसाती पानी इकट्ठा हो जाता है। जिससे इस तरह की अव्यवस्था उत्पन्न होती है। लोगों का कहना है कि अगर जलदाय विभाग की ओर से पानी के निकास की उचित व्यवस्था की जाए तो उनको बरसाती समय में जलापूर्ति बाधित होने से निजात मिल सके, लेकिन फिलहाल जलदाय विभाग का रवैया उदासीनता का बना हुआ है।

इनका कहना है

तेज बारिश के कारण पंप हाउस में पानी भर गया था। पंप हाउस में भरे पानी को निकाला जा रहा है जिससे फिलहाल जलापूर्ति बाधित है। एक से दो दिन में जलापूर्ति सुचारू कर दी जाएगी- केदारलाल मीणा, जेईएन,जलदाय विभ

खबरें और भी हैं...