पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना को आमंत्रण:यह गलत : चोरी छिपे हो रही गैर जरूरी सामान की बिक्री, कोरोना का कहर, फिर भी व्यापारी लापरवाह

टोडाभीमएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कस्बे में कुछ व्यापारियों की लापरवाही से कस्बे में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है ।ये वो व्यापारी है जो चोरी छिपे अपनी दुकानों को खोलकर न सिर्फ रेड अलर्ट जन-अनुशासन पखवाड़े व लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे हैं । बल्कि लोगों की जान के साथ खिलवाड़ करने से भी नहीं हिचकिचा रहे हैं ।आलम यह है कि खरीदारों के लिए बाजारों में कुछ भी बंद नहीं है। कस्बे में दोपहर तक लोगों की भारी आवाजाही रहती है । कस्बे में पुलिस और प्रशासन जन-अनुशासन पखवाड़े एवं कोरोना गाइडलाइन की कड़ाई से पालन करवाने के लिए काफी दौड़ धूप कर ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए जगह-जगह दुकानें सीज कर चालान काटने की कार्यवाही कर रहा है।

लेकिन लालच में फंसे कई दुकानदार व व्यापारी कोरोना को लेकर बड़ी लापरवाही बरत रहे हैं और वह ग्राहकों को चोरी छुपे गैर जरूरी सामान धड़ल्ले से बेच रहे हैं । वैसे तो नई गाइडलाइन के तहत किराना से जुड़े सामान सहित दूध, पशुचारा,आटा चक्की, फल सब्जी जैसी आवश्यक वस्तुओं की दुकान खोलने की समय सीमा तय की गई है । इसके अलावा सभी की दुकानें पूरी तरह बंद करने के आदेश जारी किए गए थे लेकिन टोडाभीम कस्बे में कुछ भी खरीदा जा सकता है और ऐसा हो रहा है । कस्बे में कपड़े, बर्तन, जूते-चप्पल, गारमेंट्स, इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट, प्रोसेस्ड फूड, मिठाई सहित अन्य सामान की चोरी-छिपे हो रही है ।

सुबह 6 बजे से गैर जरूरी सामान से जुड़े दुकानदार बाजार में पहुंच जाते हैं और अपनी दुकानों के आसपास ही बैठे रहते हैं जैसे ही कोई ग्राहक आता है वे दुकान की शटर उठाकर दुकानदारी करने में जुट जाते हैं । कई दुकानदारों ने तो अपनी दुकानों को घरों में शिफ्ट कर दिया है। उन्होंने सामान देने के लिए अपनी दुकानों की शटर पर मोबाइल नम्बर लिखे दिए गए है जिससे ग्राहकों को समान देने के लिए मोबाइल पर समय देकर घर बुला लेते हैं दुकानदार के सहयोग के लिए उनका स्टाफ ही नहीं बल्कि परिवार के अन्य सदस्य भी सहयोग करते हैं ।

खबरें और भी हैं...