5 दिन का अल्टीमेटम अनशन जारी:श्रमिक समस्याओं के निस्तारण के लिए 5 दिन का अल्टीमेटम

टोडारायसिंहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अनशन जारी, समाधान नहीं होने पर घेराव व जलापूर्ति ठप करने की चेतावनी

बीसलपुर जयपुर परियोजना में गत डेढ़ दशक से कार्यरत श्रमिकों को काम से निकालने के विरोध में कर्मचारी संघ के श्रमिकों ने करणी सेना के संरक्षक नरेन्द्र सिंह आमली के नेतृत्व में शुक्रवार को एसडीएम कार्यालय के बाहर श्रमिकों का 9वें दिन भी धरना एवं क्रमिक अनशन जारी रहा तथा एसडीएम रूबी अंसार को ज्ञापन सौंप कर पांच दिन में समाधान नही होने पर घेराव व जलापूर्ति ठप करने की चेतावनी दी है।

बीसलपुर जल प्रदाय परियोजना कर्मचारी संघ के आंदोलनरत श्रमिकों का समाधान ही हुआ तो श्रमिकों ने करणी सेना के संरक्षक नरेन्द्र सिंह आमली का सहारा लिया है। जहां पर करणी सेना के संरक्षक आमली ने श्रमिकों के बीच पहुंच कर सरकार, नेताओं, ठेकेदार व प्रशासन को खरी-खरी सुनाते हुए श्रमिक हित में आरपार की लडाई लड़ने की हुंकार भरी है। इस दौरान आमली ने हुंकार भरते हुए कहा कि यहां के लोगों की बीसलपुर बांध व फिल्टर प्लांट बनाने में जमीनें गई है। इसके बावजूद यहां के लोगों को पानी व रोजगार से दरकिनार किया जा रहा है।

5-6 माह से आंदोलन कर रहे श्रमिकों की सुनने वाला कोई नही है। अब मैं इन श्रमिकों के हितों के लिए अंगद के पेर की तरह डट कर मुकाबला करूंगा। एक ही दिन में न्याय दिलाउंगा। मैं हमेशा गरीब, असहाय के लिए खड़ा रहता हूं। मैं श्रमिकों के दुखों को धारण करूंगा और इनके हक व अधिकार को दिला कर जाउंगा। तत्पश्चात नरेन्द्र सिंह आमली सहित श्रमिकों ने एसडीएम को सौंपे ज्ञापन से बताया कि 28 अक्टूबर से उपखण्ड कार्यालय के बाहर श्रमिकों का क्रमिक अनशन चल रहा है, लेकिन आज तक बीसलपुर जयपुर पेयजल परियोजना के अंतर्गत कार्यरत कार्मिक संघ की समस्या जस की तस है। कार्यकारी संस्था जीसीकेसी की हठधर्मिता बरकरार है।

खबरें और भी हैं...