पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जीवनदान:जिला अस्पताल में 15 कंन्स्ट्रेटर शुरू संक्रमितों को मिल रहा है जीवनदान

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टोंक। सआदत अस्पताल में ऑक्सीजन कंन्स्ट्रेटर आने के बाद मरीजों को ऑक्सीजन मिलने में राहत मिली। - Dainik Bhaskar
टोंक। सआदत अस्पताल में ऑक्सीजन कंन्स्ट्रेटर आने के बाद मरीजों को ऑक्सीजन मिलने में राहत मिली।

जिले में 15 ऑक्सीजन कंन्स्ट्रेटर मिलने के बाद मरीजों को राहत मिली है, वहीं भर्ती करने में आ रही परेशानी भी कुछ हद तक दूर हो सकी है। गौरतलब है कि विधायक सचिन पायलट के प्रयास से जिला अस्पताल को 5 ऑक्सीजन कंन्स्ट्रेटर पूर्व में मिले थे तथा 8 गुुरुवार को मिले हैं। जिसका उपयोग होने लगा है। इस पर मेडिकल के जाे सामान्य मरीज है, जिनको ऑक्सीजन की जरुरत है। उनको ये कंन्स्ट्रेटर लगाए गए हैं। ये ऑक्सीजन स्वयं बना लेता है। इसमें स्वयं रोज जरुरत के हिसाब से ऑक्सीजन तैयार करने की सुविधा होने के कारण वर्तमान में ये काफी उपयोगी साबित हो रहे हैं।

पीमएमओ खेमराज बंशीवाल ने बताया कि गुरुवार को मरीजों को ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर लगाए गए हैं। सभी का उपयोग हो रहा है। इससे भर्ती किए जाने की परेशानी कई हद तक कम हुई है। और सरकार द्वारा और भेजे जाने की उम्मीद है। इससे राहत मिलेगी। गौरतलब है कि जिले में भर्ती मरीजों की संख्या बढने के साथ ही ऑक्सीजन की कमी आने लगी थी। अस्पताल में नए मरीज को भर्ती करने में भी परेशानी खड़ी हो गई थी। लेकिन कंस्ट्रेटर मिलने के बाद कुछ राहत अस्पताल प्रशासन को भी मिली। वहीं ऑक्सीजन की आवश्यकता वाले मरीजों के लिए ये वरदान साबित हो रहे हैं। वही नगर परिषद की और से भी 25 कंन्स्ट्रेटर खरीद किए जाने की स्वीकृति जारी की जा चुकी है। जिससे से भी लाभ मिल सकेगा।

सीएचसी पर भी सुविधाएं विकसित की गई कोरोना मरीजों के बढ़ते दवाब के चलते प्रशासन ने उपखंड मुख्यालय स्थित सीएचसी पर भी कोविड केयर सेटर की सुविधाए विकसित की गई। आर ए एस अधिकारी नवनीत कुमार ने बताया कि उपखंड मुख्यालय की सीएचसी पर आक्सीजन सिलेडर सहित अन्य सुविधाए विकासित की गई है। जिससे मरीजों को भर्ती किया जाकर उपचार मिल सकेगा।

खबरें और भी हैं...