आग से 50 लाख रु. का सामान राख:कपड़े और जूते-चप्पल के शोरूम में आग से 50 लाख रु. का सामान राख

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टोडारायसिंह | शहर में होलसेल दुकान में आग लगने के बाद सामान के राख में तब्दिल हुए मलबे को बाहर निकालते युवक व मौके पर विधायक। - Dainik Bhaskar
टोडारायसिंह | शहर में होलसेल दुकान में आग लगने के बाद सामान के राख में तब्दिल हुए मलबे को बाहर निकालते युवक व मौके पर विधायक।
  • शॉर्ट-सर्किट बताया कारण, 70 फीट लंबी दुकान में भरा था सामान, भवन में दरारें आई

टोडारायसिंह शहर में दीपावली का त्योहार एक व्यापारी पर खुशियों की जगह कहर बरपा गया। उसके जयपुर चुंगी नाका के पास स्थित कपडा व जूते चप्पल की होलसेल दुकान में गुरुवार रात अचानक आग लग जान से करीब 50 लाख रुपए सामान जलकर राख हो गया। गनीमत रही समय रहते प्रशासन ने आस पास से 5 दमकल गाडियां बुलवा कर बडी मुश्किल से ढाई घंटे में जाकर आग पर काबू पा लिया वरना आस पास की दुकानों तक भी आग पहुंच जाती। आग शॉर्ट सर्किट से लगना माना जा रहा है।

शहर में जयपुर चुंगी नाका के पास जयपुर रोड पर अशोक कुमार सिंहल की कपडे, जूते चप्पल व होजरी आइटम की सिंहल जर्नल स्टोर नाम से दुकान है। दीपावली के दिन व्यापारी ने ग्राहकी करने के बाद रात 8:30 बजे लक्ष्मीजी की पूजा के पश्चात दुकान बंद कर अपने घर चले गए थे। तभी तडके करीब 3 बजे दूध डेयरी वाले इधर से निकले तो उन्हें दुकान में आग की लपटे व धुंआ उठती दिखाई दी। तभी मौके वहां एकत्र हुए लोगों में दुकान से निकल रही आग की लपटे व धुंआ देख दहशत फैल गई। इसकी दुकान मालिक व पुलिस को सूचना की गई। लेकिन देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। शटर के बाहर से आग की लपटे निकलने लगी। इससे आस पास की दुकानों तक फैलने का अंदेशा बढ़ गया। सूचना पर पहुंचे पुलिस के सीआई बृजेश मीणा ने टोडारायसिंह की दमकल को बुलवा कर आग पर नियंत्रण करवाया। लेकिन नियंत्रण नही हो सकी। तभी टोंक, देवली, केकडी, मालपुरा से ओर दमकल मंगवाई गई।

इस दौरान पांचों दमकल कर्मियों ने आग की लपटों का शांत करने का प्रयास शुरू किया। इस दौरान दुकान का शटर खोलने में काफी मशक्कत करनी पडी। करीब ढाई घंटे में 5 दमकलों की मदद से आग पर काबू पाया जासका। लेकिन तब तक शोरूम में रखे कपडे, जूते-चप्पल, जनरल स्टोर के सामान भीषण आग से राख में तब्दिल हो गए। गनीमत रही उपर की मंजिल तक आग नही पहुंच सकी वरना वहां भी लाखों रुपए का माल भरा था। उधर जैसे जैसे शहर में घटना की सूचना मिलती गई लोग एकत्र होते गए। सुबह दुकान के बाहर सैकडों नागरिक पहुंच गए। उनमें से करीब दो दर्जन युवाओं ने तो आग पर नियंत्रण होने के बाद दुकान से सामान के मलबे व बचे सामान को बाहर निकालने में जी जान से जुट गए।

खबरें और भी हैं...