पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत:निवाई में 75 और देवली में 50 सिलेंडर की क्षमता के लगेंगे प्लांट

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देवली| राजकीय अस्पताल को मिली सौगात। - Dainik Bhaskar
देवली| राजकीय अस्पताल को मिली सौगात।
  • जल्द मिलेगी ऑक्सीजन की सुविधा, निवाई और देवली में राज्य सरकार से मिली स्वीकृति, दो महीने में तैयार हो जाएंगे

निवाई स्थानीय सामुदायिक चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट लगाने की सरकार द्वारा स्वीकृति देने से क्षेत्र के लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई है। विधायक प्रशांत बैरवा ने बताया कि क्षेत्र लगातार ऑक्सीजन की किल्लत को लेकर सूचनाएं मिल रही थी। इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल से लगातार सम्पर्क में रहकर राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का प्रस्ताव रखा। मुख्यमंत्री गहलोत एवं स्वायत शासन मंत्री धारीवाल ने विधायक के प्रस्ताव को ध्यान में रखकर फैसला लेते हुए राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय में नगरपालिका फंड से प्रतिदिन 75 ऑक्सीजन सिंलेडर भरने की क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट लगाने की स्वीकृति प्रदान की है।

विधायक बैरवा ने बताया कि अस्पताल में दो माह में ऑक्सीजन प्लांट चालू हो जाएगा जिससे ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं रहेगी। विधायक ने यह भी बताया कि ऑक्सीजन प्लांट के लिए तकनीकी व प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा मौका नक्शा 15 दिन पूर्व बना लिया गया है।देवली| देवली के राजकीय ट्रोमा अस्पताल को ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं होगी। इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देवली में ऑक्सीजन प्लांट लगाने की स्वीकृति प्रदान की है। हाल ही में विधायक ने ऑक्सीजन प्लांट की मांग करते हुए मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था। उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण काल में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए विधायक ने विधानसभा क्षेत्र देवली एवं उनियारा के लिए पर्याप्त ऑक्सीजन उपलब्ध करवाने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर अवगत करवाया था।

जिसके फलस्वरूप राज्य सरकार ने देवली में 50 ऑक्सीजन सिलेंडर प्रतिदिन क्षमता का प्लांट लगाने की घोषणा जारी कर दी है। यदि सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो यह प्लांट अगले 2 माह में लग कर चालू हो जाएगा। इससे पूर्व भी विधायक मीणा द्वारा क्षेत्र के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर उपलब्ध करवाने के लिए कलेक्टर टोंक व उपखंड अधिकारी को निर्देशित किया था। जिसके फलस्वरूप उपखंड अधिकारी देवली एवं उपखण्ड अधिकारी उनियारा द्वारा नगर पालिकाओं के अधिशासी अधिकारी को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर अतिशीघ्र खरीदने के लिए अधिकृत एवं निर्देशित कर दिया गया है, ताकि देवली व उनियारा के सामुदायिक अस्पतालों में पीड़ित रोगियों को त्वरित ऑक्सीजन मिल सके। फिलहाल इसके लिए पहले जगह का चयन होगा। उसके बाद यंत्र स्थापित होंगे। इन सब प्रक्रियाओं के गुजरने के बाद प्रतिदिन इस प्लांट से 50 सिलेंडर ऑक्सीजन के मिल सकेंगे।

90 प्रतिशत यह काम नगर पालिका को ही मिलने की संभावना है फिलहाल अभी ऐसे कोई आदेश स्थानीय निकाय विभाग से नहीं मिले हैं। यदि मिलते हैं तो नगर पालिका इसके लिए बेहतर काम करेगी।सुरेश कुमार मीणा, अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका^चिकित्सा प्रभारी गुप्ता ने बताया कि देवली क्षेत्र के लिए यह बहुत बड़ी खुशी की बात है। अभी ऊपर से उन्हें आदेश नहीं मिले हैं। संभवत या एक-दो दिन में इसका खुलासा हो जाएगा। आदेश मिलने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। उन्होंने इतना जरूर बताया कि जगह की कितनी आवश्यकता है ऊपर से संकेत मिलने के बाद ही चयन किया जा सकेगा। यह सब टेंडर प्रक्रिया के बाद ही संभव हो पाएगा।राजेंद्र गुप्ता, चिकित्सा प्रभारी, देवली

खबरें और भी हैं...