पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

संतों पर गुंडागर्दी:8 लुटेरों ने 3 संतों से किया मारपीट, कुछ नहीं मिला तो नकदी और सामान लूट ले गए

टोंक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पीनणगढ महादेव मंदिर, रात 11बजे से 1:30 बजे की घटना
  • रात 2 बजकर 10 मिनट पर पहुंचे सीआई ने कराई नाकाबंदी

मालपुरा के पीनणी गांव के पास करीब पांच सौ मीटर दूर एक ऊंचे टीबे पर स्थित दादूदयाल आश्रम पीनणगढ़ महादेव मंदिर में गुरुवार की रात करीब आठ दस लुटेरों ने योजनाबद्ध तरीके से यहां रह रहे तीन संतों को बिजली के तारों से बांध कर लुटेरे चांदी का बना सवा 4 किलो वजनी आरती का थाल व तीन सोने की अंगूठियां 2 जोड़ी चांदी की आंवला नेवरी, तीन सोने के माडलीय, एक सोने की चेन, एक चांदी का हाथ का कड़ा सहित करीब एक संत के 27,000 और दूसरे संत के करीब 15,000 इस प्रकार कुल ₹42000 नगद, अल्टो कार तथा 3 मोबाइल लेकर भाग गए।

लुटेरे गुरुवार सुबह 11 बजे पीनणगढ़ महादेव मंदिर पर दर्शन करने व भोग लगाने के बहाने आए थे। उन्होंने संतों से बात भी की थी इस दौरान वे छह जने थे। चारों तरफ घूम फिर कर गए थे। भोग लगाने के लिए मना करने पर वे जल्दी ही चले गए। घटना के बाद शुक्रवार को पुलिस ने चार बदमाशों को नाकाबंदी के दौरान गिरफ्तार कर लिया।

दिन में भगवान को भोग लगाने आए लुटेरे, रात को मंदिर लूटा, मोबाइल लोकेशन से पकड़े

रात 11 बजे संतों को बंधक बनाया

रात 11 बजे बदमाश दादूदयाल आश्रम पीनणगढ़ महादेव मंदिर में घुसे और मंदिर मे छानबीन की। इसके बाद कमरे में सो रहे महंतों को योजनाबंद्ध तरीके से बिजली के तारों से बांध कर उलटा पटक दिया। और आंखों में मिर्ची डालकर लाठियों से पीटते रहे। बदमाशों ने संतों से पूछा सोना कहां है। जबाव नहीं मिलने पर बदमाश लात घूसों से संतों को मारते रहे।

खजाने के लिए चबूतरे को खोदा

मारपीट करने के बाद जब संतों से कुछ भी पता नहीं कर पाए तो मंदिर के चबूतरे पर तांत्रिक पूजा करके खुदाई शुरू कर दी। बदमाश खुदाई के लिए गैती-फावड़ा साथ लाए थे। चबूतरे पर पांच फुट गहरा गड्डा खोद दिया। जब खुदाई के बाद कुछ हाथ नहीं लगा तो मंदिर में रखे बक्से को तोड़कर नकदी व गहने ले गए।

संतों की कार भी ले उडे़ बदमाश

वारदात को अंजाम देकर बदमाशों ने पहले नकदी और गहनों को एक थैले डाला। इसके बाद तीनों संतों के मुंह पर टेप चिपका दी गई। जिससे हल्ला नहीं हो। साथ ही तीनों संतों को बदमाश एक कमरे में बंद कर दिया। लुटेरों ने मुख्य संत की चैन-तीन मोबाइल व उसकी अल्टो कार मेें सवार होकर भाग छूटे।

सोने की तलाश में खोदा चबूतरा

पीनणगढ़ महादेव मंदिर के बाहर चुग्गा डालने के चबूतरे के नीचे सोना दबा होने सन्देह में पांच फुट गहरा गड्डा खोदा, गेती फावड़े की तीन चार जोड़ी साथ लाए थे लुटेरे जिन्हें छोड़ गए।

रातभर नाकाबंदी, दिन में पकड़े गए
लूट की सूचना पर पहुंचे सीआई गोपाल सिंह- पीनणगढ़ मंदिर में लूट की वारदात की सूचना सीआई थानाधिकारी गोपाल सिंह नाथावत को रात करीब दो बजे मिली। वह दस मिनट में घटना स्थल पहुंचे तथा टोंक कंट्रोल रूम को मामले से अवगत कराया, उन्होंने तत्काल नाकाबंदी कराने को कहा। कंट्रोल रूम टोंक ने जिले में नाकाबंदी कराई।

खास बात यह है कि सीआई गोपाल सिंह ने अपने मोबाइल के जरिए ही संतों के नंबरों को ट्रेस करने का प्रयास किया जिससे लुटेरों का लोकेशन टोंक सवाईमाधोपुर रोड पर मिला व नाकाबंदी ताेड़ कर भाग रहे लुटेरे नगर फोट थाना इलाके में संतों की कार छोड़ अंधेरे जंगल में भाग गए।

संतों के 3 मोबाइल ले गए थे, लोकेशन से पकड़े गए लुटेरे

पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश के निर्देशन में तत्काल कार्रवाई करते हुए पुलिस अधिकारियों व विशेष दल के जवानों ने दादूदयाल आश्रम पीनणगढ़ महादेव मंदिर में लूट डकैती की वारदात करने वाले चार बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने बताया कि घटना की सूचना पर तत्काल जिले में नाकाबंदी कराई गई, इस दौरान घास चौकी की नाकाबंदी तोड़कर भागी अल्टो कार का जवानों ने पीछा किया तो आरोपीगण कार को जंगल में छोड़ कर भाग गए। मुल्जिमों की तलाश के लिए थाना व वृत स्तर पर विशेष टीम गठित कर अलग अलग क्षेत्रों में तलाश शुरू की गई ।

तलाशी में मुल्जिम गोपाल नंदू बरवा पुत्र नंदू बरवा उम्र 56 वर्ष निवासी बेसलबीरा थाना सूरो जिला बालेसर उड़ीसा, जीवन पुत्र रतन लाल सीयाल उम्र 28 वर्ष निवासी चिराई थाना ओसिया जिला जोधपुर, ज्ञानचंद जैन पुत्र पदमचंद जैन उम्र 42 वर्ष निवासी डिग्गी व रामबाबू शर्मा पुत्र बद्रीलाल उम्र 42 वर्ष निवासी डिग्गी को गिरफ्तार किया गया है।

पूर्व में दो बार हो चुकी वारदातें

पीनणगढ़ महादेव मंदिर में पहले दो बार इसी प्रकार सोना तलाशने को लेकर बदमाश वारदात कर चुके हैं। जानकारी अनुसार एक वर्ष पूर्व बदमाशों ने रात को यहां आकर सोना तलाशने के लिए गड्ढे खोदे, जब कुछ नहीं मिला तो भाग गए। इसी प्रकार करीब पांच छह साल पहले बदमाशों ने मंदिर में धावा बोल कर तलाशी ली व दानपात्र उठा ले गए। लेकिन इन मामलों की रिपोर्ट नहीं लिखाई गई जिससे अब बड़ी वारदात हुई है। हालांकि इसी प्रकार की वारदात उपखंड के लांबा हरिसिंह में बीते वर्ष हुई जहां एक घर में पति पत्नी को बंधक बना लाखों के सोने चांदी के जेवर लूट ले गए अभी तक उस वारदात का खुलासा नहीं हुआ ।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें