पश्चिमी विक्षोभ से बदला मौसम:8 साल बाद सबसे ठंडा रहा 6 जनवरी का दिन, पारा 14 डिग्री, दिनभर मावठ, कोहरा छाया रहा

टोंक16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दूसरे दिन भी जिलेभर में हल्की बारिश का दौर जारी रहा, दिन का तापमान 3 डिग्री गिरा

जिले में पिछले पांच सालों में जनवरी माह में इस बार मावठ का दौर चला। गुरुवार को पिछले 24 घंटों में टोंक रेनगेज क्षेत्र में 19 एमएम बारिश दर्ज की गई। यह बारिश लगभग जिलेभर में थी। बारिश के बाद किसानों एवं कृषि विभाग के अधिकारियों का कहना था कि बारिश फसलों के लिए वरदान साबित होगी। लेकिन ओलावृष्टि होती है, तो खराबा हो सकता है। जिले में बुधवार देर रात से ही मावठ का दौर रुक-रुक कर कई जगह चलता रहा। आसमान में गुरुवार को दिनभर बादल छाए रहे तथा सूर्य के दर्शन नहीं हो सके। कोहरे एवं धुंध के कारण 150 मीटर दूरी के बाद कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। इसके कारण दिन में वाहन चालकों को लाइटें जलानी पड़ी। मावठ के कारण दिन के तापमान में गत दिनों के मुकाबले 3 डिग्री की गिरावट आई। 2014 के बाद 6 जनवरी को सबसे सर्द दिन रहा। जिले में अब तक अधिकांश दिन का तापमान 20 डिग्री से अधिक रहा है। लेकिन गुरुवार को जिले में अधिकतम तापमान 18 डिग्री एवं न्यूनतम तापमान 14 डिग्री रहा।
पिछले पांच साल में मावठ की स्थिति
जिले में जनवरी माह में मावठ का दौर कई बार चलता रहा है। लेकिन इस बार पिछले पांच साल में सबसे तेज मावठ हुई। 2017 में 27 जनवरी को मावठ की तेज बारिश हुई। मालपुरा में 11.0 मिमी, निवाई में 12, टोडा में 11, टोंक में 15, अलीगढ में 14, पीपलू में 22 एवं निवाई में 11 मिमी बारिश दर्ज हुई थी। 2018 में जनवरी माह में मावठ नहीं हुई। 2019 में 22 जनवरी कहीं एक, तो कहीं दो मिमी बारिश हुई। टोंक में सर्वाधिक 10 मिमी हुई थी। इसी प्रकार 2020 में 16 जनवरी को मावठ का दौर चला, जिसके तहत सबसे अधिक बारिश टोडारायसिंह में 6 मिमी दर्ज की गई थी। बाकी जगह एक से तीन मिमी ही दर्ज हो पाई थी।

नासिरदा, डिग्गी, मोर, रानोली, बनेठा और नगरफोर्ट क्षेत्र में भी रुक-रुक कर चली बारिश

निवाई | दूसरे दिन गुरुवार को दिनभर बरसात की झड़ी लगी रही। दिन में कई बार कभी तेज तो कभी धीमी गति से बरसात होती रही। लगातार हो रही बारिश व ठंड से जनजीवन प्रभावित रहा। दिनभर सूर्यदेव के दर्शन नहीं हुए और कोहरा भी छाया रहा। दो दिन से हो रही बरसात से उपखंड क्षेत्र में रबी फसल को एक सिंचाई का फायदा होगा। बरसात होने से फसलों को अमृत मिल गया है। गुरुवार को दतवास क्षेत्र तेज बारिश हुई है।
देवली | ब्लॉक क्षेत्र में गुरुवार को भी हल्की बारिश का दौर चला। दिनभर बादल छाए रहे। तेज सर्दी के कारण लोग घरों में बी रहे। सुबह हल्की बारिश के साथ सर्द हवा चलने से तापमान में गिरावट आ गई। रात और दिन के तापमान में ज्यादा अंतर नहीं रहा। दिन का तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रहा है। बारिश के बाद किसानों के चेहरे खिले हुए हैं। उनका कहना है कि यह बारिश फसलों के लिए अमृत का काम करेगी।
टोडारायसिंह | उपखण्ड क्षेत्र में दूसरे दिन गुरुवार को भी दिनभर बारिश का दौरा चलता रहा। सुबह से ही शहर कोहरे से ढका रहा। धूप नहीं निकलने से सर्दी ने कंपकंपा दिया। बारिश से बाजार की सड़कों पर पानी बह निकला। तेज सर्दी से लोगों का हाल बेहाल रहा। दिनभर कोहरे से शहर में धुंध छाई रही। कंवरावास, बस्सी, भासू, थडोली, बोटूंदा, गोपालपुरा, बावडी, मोरभाटियान, खरेडा, हमीरपुर, बासेडा, गणेती, इंदोकिया में भी कई बार बारिश हुई।

खबरें और भी हैं...