पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Tonk
  • Collector's Efforts Brought Color, Not A Single Corona Positive Came On Wednesday, Corona Ward Also Became Empty, Only 1 Patient Admitted

ढाई माह बाद कोरोना से जीती जंग,एक भी केस नहीं:टोंक जिले में एक भी नहीं आया पॉजिटिव, 8 मरीज रिकवर हुए; कोरोना वार्ड में मात्र एक मरीज भर्ती

टोंक3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सआदत  अस्पताल। अब यह कोरोना मुक्त हो गया है। - Dainik Bhaskar
सआदत अस्पताल। अब यह कोरोना मुक्त हो गया है।

कोरोना को लेकर जिले के लिए बहुत बडी खुश खबरी है। करीब ढाई माह बाद कलेक्टर चिन्मयी गोपाल के प्रयास रंग लाए हैं। बुधवार को एक भी कोरोना पॉजिटिव केस सामने नहीं आया जबकि 8 मरीज रिकवर भी हुए हैं।

जिले में गत वर्ष एक अप्रैल से जिले में कोरोना संक्रमण के केस आने लगे थे। वहीं अप्रैल में ही एक बुजुर्ग की कोरोना से मौत हुई थी। उसके बाद गत वर्ष अगस्त में मौतें अधिक हुईं। उसके बाद मौत के आंकड़ों में तो कमी आई लेकिन संक्रमितों के आंकड़ों में तेजी से इजाफा हुआ।

इस वर्ष अप्रैल व मई में तो हालत बेकाबू हो गए। यहां तक की अस्पतालों में मरीज को भर्ती करने में भी परेशानी आने लगी। एक्टिव केस की संख्या 15 मई तक तो 18 सौ से भी अधिक हो गई। गत वर्ष दिसंबर तक पॉजिटिव की संख्या 3728 हो गई थी।

जो अब बढकर 9754 हो गई है। इसमें से 9528 मरीज रिकवर हो चुके हैं। चिकित्सा विभाग के अनुसार अब तक 92 मौतें हुई हैं। हालांकि संख्या काफी अधिक नजर आती है। बहरहाल जिले में बुधवार राहत की खबर लेकर आया। बुधवार को जहां एक भी पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है।

वहीं अस्पतालों में भी मरीजों की संख्या 36 रह गई है। इसमें भी 15 मरीजों की स्थिति सामान्य है जबकि 19 के ऑक्सीजन लगी है, दो आईसीयू में भर्ती है। कोई भी मरीज वैंटिलेटर पर नहीं है। सआदत अस्पताल में स्थिति ये हैं कि वहां पर कोविड का वार्ड लगभग खाली सा हो गया है। एक मरीज ही वार्ड में मौजूद है। बुधवार को 852 सैंपल लिए गए जिनकी जांच रिपोर्ट आना बाकी है।

मई में सबसे अधिक मरीज आए सामने

जिले में अप्रैल व मई में काफी खतरनाक स्थिति रही। गत वर्ष से अब तक सबसे अधिक केस मई माह में 3071 सामने आए। जबकि गत वर्ष नवंबर में सबसे अधिक केस 1059 सामने आए थे। इस साल मई में जहां सबसे अधिक केस सामने आए। वहीं 4 हजार 477 से केस रिकवर भी हुए थे।

खबरें और भी हैं...