फ्रेजर ब्रिज पर पुलिस जाब्ता लगाएं / नदी में डूबने से हर साल होती हैं मौत, फ्रेजर ब्रिज पर पुलिस जाब्ता लगाएं

X

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

टोंक. फ्रेजर ब्रिज के पास पुलिस जाब्ता लगवाने की मांग को लेकर कांग्रेसी नेताओं ने एसडीएम को ज्ञापन दिया। कांग्रेस नेता मोहम्मद एहसान ने बताया कि दो दिन पूर्व बनास नदी में डूबने से युवक की मौत हो गई थी। पिछले कई साल से बरसाती दिनों में बनास नदी पर बनी पुरानी पुलिया (फ्रेजर ब्रिज) के नीचे नहाने के दौरान डूबने से लोगों, खासतौर पर युवाओं की असमय मौत हो चुकी हैं। उन्होंने बताया कि पुल के पास धार्मिक स्थल होने के कारण दूर-दूर से लोग पिकनिक मनाने आते हैं। वह नहाने के नीचे चले जाते हैं। नदी में खनन से हुए गड्ढों में फंसकर डूबने से उनकी मौत हो जाती हैं। वहां पर पुलिस जाब्ता लगाने से इस तरह के हादसों को रोका जा सकते हैं। उन्होंने एसडीएम से बनास पुलिस के पास पुलिस जाब्ता लगवाने की मांग की। इस दौरान सेवादल के अब्दुल खालिक, इरशाद, महिला कांग्रेस की जेबा खान, फैजान उल हक आदि मौजूद रहे। उपमुख्यमंत्री से मिले एंबुलेंसकर्मी इंट्रीगेटेड एंबुलेंस कर्मचारियों ने उपमुख्यमंत्री सचिन पालयट से मिलकर एंबुलेंस सेवा को ठेका कंपनी के शोषण से निजात दिलाने सहित अपनी मांगों से अवगत करवाया हैं। एंबुलेंस कर्मी सीताराम ने बताया कि उपमुख्यमंत्री ने हमारी बात सुनकर समस्या समाधान का आश्वासन दिया।
पेट्रोल-डीजल व गैस का रिजर्व स्टाॅक रखें
टोंक|
जिला मजिस्टेट के.के.शर्मा ने मानसून के दौरान अतिवृष्टि एवं बाढ़ को ध्यान में रखते हुए डीजल-पेट्रोल व गैस की व्यवस्था को बनाए रखने के लिए सभी पेट्रोल/डीजल पम्प संचालकों को 30 सितम्बर 2020 तक 500 लीटर पेट्रोल एवं 2000 लीटर डीजल का स्टाॅक (डेड स्टाॅक के अतिरिक्त) एवं गैस एजेन्सी संचालकों को घरेलू कुकिंग गैस के भरे 50 सिलेण्डर रिजर्व स्टाॅक में रखने के आदेश प्रदान किए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना