पुलिस टीम को बदलने की मांग / प्राचीन मूर्ति चोरी मामले में गठित पुलिस टीम को बदलने की मांग

X

  • कलेक्टर एवं एसपी से मिले बालापुरा के लोग

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

टोंक. बालापुरा गांव के मोडया मंदिर से अज्ञात चोर गिरोह द्वारा पुरातत्व महत्व के शिवलिंग व अष्टधातु नंदी की प्राचीन मूर्तियां, तांबे का नाग व त्रिशूल, डमरू आदि चुराने के प्रकरण में पांच माह बाद भी पुलिस द्वारा खुलासा नहीं करने के मामले में सोमवार को ग्रामीणों ने कलेक्टर व एसपी को ज्ञापन सौंपा। जिसमें पुलिस की गठित टीम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए उक्त टीम को बदलकर नई टीम का गठन करने की मांग की गई है। मंदिर पुजारी जगदीश जाट, कचरावता सरपंच दिलीप सिंह, अनीस भारतीय, सुरजीत, बाबू लाल, तुलसीराम, प्रभुलाल जाट, रामस्वरूप जाट, कैलाश जाट, सत्यनारायण जाट आदि ने बताया कि बालापुरा गांव के मोडया मंदिर से 3 फरवरी मध्य रात्रि को अज्ञात चोर गिरोह पुरातत्व महत्व की नीलम पत्थर जैसी दिखने वाले शिवलिंग व अष्टधातु नंदी की प्राचीन मूर्तियां, तांबे का नाग व त्रिशूल, डमरू आदि को अज्ञात चोर चुराकर ले गए थे। ये प्रतिमाएं व अन्य धार्मिक वस्तुएं मांडकला क्षेत्र के समीप बालापुरा गांव के तन में भारत सरकार के पुरातत्व विभाग द्वारा संरक्षित क्षेत्र खेड़ा सभ्यता के भूगर्भ में से 16 फरवरी, 2007 को निकली थीं। थाना में मामला भी दर्ज कराया है। चोरी की वारदात के चार माह करीब बीतने को है। मगर पुलिस अब तक प्रकरण में किसी को भी गिरफ्तार नहीं कर सकी। न ही चोरी हुई प्रतिमाआें व अन्य धार्मिक वस्तुआें का पता लगा पाई है। नई टीम का गठन करें 10 फरवरी को कचरावता सरपंच, मंदिर पुजारी के साथ जिला मुख्यालय पर मूर्तियां व चोरों का पता लगाने के संबंध में प्रदर्शन कर कलेक्टर व एसपी को ज्ञापन भी सौंपा था। एसपी ने उनियारा डीएसपी के नेतृत्व में नगरफोर्ट, उनियारा, अलीगढ थानाधिकारियों की टीम भी गठित की गई। मगर पांच माह के बाद भी पुलिस अब तक मूर्ति चोर गिरोह का पर्दाफाश नहीं कर पाई है। ग्रामीणों ने मांग की है कि उक्त जांच टीम को बदला जाए। एेसी टीम गठित की जाए कि वह मूर्ति चोरों को पकड़ कर उनसे मूर्तियां बरामद कर सकें।
मूर्तियां चोरों को पकड़ने की मांग तेज हुई
टोंक|
प्राचीन मूर्ति चोरी के मामले में नगरफोर्ट के ग्रामीणों ने रोष जताते हुए एसपी को ज्ञापन देकर मूर्ति चोरों को पकड़ने की मांग की है। अनीस भारती, रामलाल, लेखराज, रमेश सहित कई ग्रामीणों ने बताया कि नगरफोर्ट मिनी पुष्कर मांडकला वह पुरातत्व सभ्यता से संबंधित क्षेत्र बालापुरा ग्राम के मुंडिया के महादेव पुरातत्व महत्व की शिवलिंग नंदी समेत अन्य मूर्तियों की 3 फरवरी की रात चोरी हो गई थी। अब तक पुलिस प्रशासन इन प्राचीन मूर्तियों के मामले में कोई सुराग नहीं लगा पाया है। उन्होंने मूर्ति चोरों को गिरफ्तार करने एवं मूर्तियां बरामद करने की मांग की है। इस संबंध में पूर्व में भी ज्ञापन दिया गया था। लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं अमल में नहीं आ सकी है। उन्होंने आंदोलन की भी चेतावनी दी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना