पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सोशल डिस्टेंस - आरती में शामिल हुए श्रद्धालु:कंकाली माता मंदिर में सोशल डिस्टेंस के साथ आरती में शामिल हुए श्रद्धालु

टोंक5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नो दिवसीय शारदीय नवरात्र महोत्सव शनिवार को घट स्थापना के साथ जिला मुख्यालय सहित जिलेभर में शुभारंभ हुआ। पहले दिन मां शैलपुत्री के श्रंगार किया गया। शहर के ऐतिहासिक कंकाली माता की मंदिर में नवदुर्गा के पहले स्वरुप के दर्शन के पहुंचे लोग सोशल डिस्टेंस का पालना के साथ आरती में शामिल हुए हैं और सामाजिक दूर रखते हुए माता के दर्शन किया। नवरात्र स्थापना के साथ ही विभिन्न धार्मिक आयोजनों का शुभारंभ हो गया। लोगों ने घरों पर रहकर घट स्थापना की तो मंदिरों में अखंड पाठ आदि का आयोजन किया गया।पुलिस लाइन संतोषी माता मन्दिर, आरएसी माता मन्दिर, वैष्णो देवी माता मन्दिर, संतोषी माता मन्दिर किदवई पार्क सहित शहर के विभिन्न दैविये मंदिरों में नवरात्रा में देवी की विशेष पूजा अर्चना की गई। हाईवे पर स्थित श्रीयंत्र शिखर युक्त स्वर्ण दुर्गा कैलाशपति मन्दिर में दक्षिण पद्धति से मातारानी के श्रंगार कर शरद नवरात्रा महोत्सव के रुप मना जा रहा हैं। इधर नवरात्रों में मंदिरों आने वाले श्रद्धालुओं को कोविड़-19 संक्रमण से बचाव को लेकर मंदिर समितियों प्रशासन और श्रद्धालु को विशेष ध्यान रखने की जरूरत हैं। कंकाली माता मंदिर के पुजारी सूरजपुरी गोस्वामी ने बताया कि मन्दिर में दर्शनाथ आने वाले श्रद्धालुओं के लिए हाथ धोने के लिए साबुन व सेनिटाइजर की व्यवस्था की गई है। शहर के गांधी पार्क में शारदीय नवरात्र के अवसर पर होने वाली रामलीला इस बार नही होने से रामलीला रंगमंच खाली दिखाई दियाl वही नगर परिषद की ओर से इस बार वहां पर साफ-सफाई नही होने से गंदली का आलम दिखाई दे रहा हैl टोडा में नहीं हुआ रामलीला का आयोजनटोडारायसिंह| शहर में हर वर्ष शारदीय नवरात्र में नगर पालिका की ओर से आयोजित होने वाले धार्मिक कार्यक्रम रामलीला का आयोजन इस बार कोरोना महामारी के चलते देखने को नहीं मिला। शहर के कटला प्रांगण व तेजाजी के चौक में नौ दिन तक रामलीला पार्टी द्वारा रामलीला का मंचन नवरात्र स्थापना से शुभारंभ किया जाता है। लेकिन इस बार सरकार की गाइड लाइन के मद्देनजर धार्मिक आयोजन पर पाबंदी है। इससे पहली बार रामलीला के आयोजन की कड़ी टूटी है। इसी प्रकार नवरात्र में ही नौ दिन तक आम सागर पर कई वर्षों से होने वाले नवरात्र महोत्सव का भी आयोजन नही होगा। जिसमें डांडिया नृत्य सहित सांस्कृतिक व देशभक्ति से ओतप्रोत होने वाले कार्यक्रम को देखने से लोग वंचित रहेंगे। संभवतया दशहरा पर भी रावण का दहन होना भी असंभव है। अभी तक इसको लेकर भी पालिका ने स्पष्ट नही कहा है। पालिका के ईओ भरतलाल मीणा ने बताया कि सरकार से जैसी गाइड लाइन मिलेगी उसी के अनुरूप धार्मिक आयोजन पर निर्णय लिया जा रहा है। आगे जैसी गाइड लाइन मिलेगी उसी के कार्य होगा।शक्तिपीठों की पूजा कर हुई घट स्थापनानटवाड़ा| कस्बे सहित ग्रामीण क्षेत्र में शनिवार को शारदीय नवरात्रि के अवसर पर घर-घर में घट स्थापना की। कोरोना महामारी के चलते मन्दिरों में श्रद्धालुओं की आवाजाही कम रही। लोगों ने घरों में ही धार्मिक अनुष्ठानों के साथ घट स्थापित की। क्षेत्र के शक्तिपीठों पर भी पूजा अर्चना कर सुख-समृद्वि की कामना की। नटवाड़ा में श्री बद्री विशाल मन्दिर, मूंदड़ा बालाजी, अखाड़ा बालाजी के मन्दिर सुबह विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन किया गया। हरिराम कीर्तन गाए गए। बालाजी महाराज का पंचामृत से स्नान कर चोला चढ़ाकर झांकी सजाई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप सभी कार्यों को बेहतरीन तरीके से पूरा करने में सक्षम रहेंगे। आप की दबी हुई कोई प्रतिभा लोगों के समक्ष उजागर होगी। जिससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा तथा मान-सम्मान में भी वृद्धि होगी। घर की सुख-स...

और पढ़ें