मुसीबत / काेरोना के बाद अब टिड्डियों का हमला,अजमेर की अरांई पंचायत से जिले के डेठाणी गांव में प्रवेश, पहले से ही सतर्क होने से नुकसान कम

Now locusts attack after kerona, entering the district of Dethani from Arani panchayat of Ajmer, loss due to already being cautious
X
Now locusts attack after kerona, entering the district of Dethani from Arani panchayat of Ajmer, loss due to already being cautious

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

टोंक. कोरोना संकट के बाद जिले में  शुक्रवार को टिड्डियों के दल ने हमला कर दिया। इससे जिला प्रशासन व किसानों में अफरा-तफरी मच गई। राहत की बात यह रही हवा के रुख के साथ ये टिड्डी दल 150 किमी की दूरी तय करने के बाद जिले की सीमा को पार करते हुए सवाई माधोपुर जिले के ईसरदा क्षेत्र में प्रवेश कर गया। हालांकि जगह-जगह खेतों में उगी रजका सहित अन्य फसलों को इससे कुछ नुकसान भी पहुंचाया है। मगर कृषि विभाग द्वारा पहले से ही सचेत कर दिए जाने के चलते किसान भी पूरी तैयारी से थे। किसानों ने थालियां, टीन के पीपे आदि बजा-बजाकर टिड्डी दलों को अपने खेताें में ज्यादा देर रुकने नहीं दिया।
कृषि उपनिदेशक महेश चंद शर्मा ने बताया कि टिड्डी दल ने शुक्रवार को अजमेर की अरांई पंचायत से टोंक जिले के डेठाणी गांव में प्रवेश किया। इसके बाद नगर, कुराड़, स्याह, बालापुरा, माधोनगर, इस्लामपुरा, मालपुरा के डिग्गी, लावा, पीपलू के झिराना, नानेर, कुरेड़ा, सोहला, भांची-देवली, मंडावर, बनेठा, सुरेली होते हुए सवाई माधोपुर जिले के ईसरदा पंचायत में प्रवेश किया।
मालपुरा| उपखंड में शुक्रवार को टिड्डी दल का आंतक रहा।  शुक्रवार  सुबह  8:30   टिड्डीदल ने अजमेर जिले की सीमा  डेठाणी गांव से प्रवेश किया, जो तीन घंटे तक 18 गांवों में होकर 12 बजे के आस पास पीपलू उपखंड में चला गया। जहां जहां भी टिड्डीदल पहुंचा। ग्रामीणों ने बचाव के लिए उन्हें भगाने के प्रयास में थालियां, पीपे, मंजीरे, ढोल व बाइकों के हॉर्न बजाकर व पटाखे छुड़ाए।   सहायक निदेशक कृषि विस्तार डॉ. नागर मल यादव,  तहसीलदार अनिल चौधरी प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। तहसीलदार अनिल चौधरी ने बताया कि टिड्डी दल ने अजमेर जिले की सीमा पर बसेडेठाणी गांव से उपखंड में प्रवेश किया जो कुराड, नगर , आवडा, मलिकपुर सहित बाछेडा, देशमा व कुरथल, डिग्गी व डिग्गीनुक्कड, जयसिंहपुरा, सोडा व धोली गांव होकर चबराना लावा भगवानपुरा सहित अन्य गांवों से होता हुआ पीपलू उपखंड में चला गया। टिड्डियों से हमले से फसलों को खास नुकसान नहीं हुआ है कुछ जगहों पर चारा व सब्जी की फसलों को कुछ नुकसान हुआ है। तेज हवा के कारण टिड्डी दल मालपुरा उपखंड में ज्यादा देर तक नहीं रुक सका।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना