पितरों को तर्पण:सर्व पितृ अमावस्या पर सर्व समाज ने दिया पितरों को तर्पण

टोंक20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
टोंक| बनास नदी पर सर्वजातीय सामूहिक तर्पण के दौरान अपने पूर्वजों और शहीद सैनिकों की आत्मशांति के लिए तर्पण करते लोग। - Dainik Bhaskar
टोंक| बनास नदी पर सर्वजातीय सामूहिक तर्पण के दौरान अपने पूर्वजों और शहीद सैनिकों की आत्मशांति के लिए तर्पण करते लोग।

बनास नदी (वशिष्टी तट) पुरानी पुलिया गंगेश्वर महादेव मन्दिर के नीचे सर्वजातिय निशुल्क सामूहिक तर्पण का आयोजन किया गया। जिसमें सनातन धर्म की सभी जातियों के लोगों का एक साथ देश के लिए शहीद होने वाले जवानों व अपने-अपने पूर्वजों (पितरों) का तर्पण करने पर सामाजिक समरसता का संगम देखने को मिला। पं. जगदीश नारायण स्मृति मंच व वैदिक शोध संस्थान की ओर से आयोजित कार्यक्रम में बुधवार सुबह 6.30 से 11 बजे तक तीन चरणों करीब 500 महिला-पुरुषों ने जलांजलि देकर तर्पण किया।

कार्यक्रम व संस्थान के संयोजक डाॅ. पं. पवन सागर ने बताया कि तर्पण का कार्य आचार्य पंं. घनश्याम दाधीच, पं. बालकिशन शर्मा, डाॅ. पं. राजेश पारीक, पं. गंगासहाय शर्मा, डाॅ. पं. बाल किशन शास्त्री, पं. राजेश शर्मा आदि आचार्य विद्वानों के सानिध्य में सम्पन्न करवाया या।डॉ. सागर ने बताया कि हमारे पूर्वजों की सद्गति के लिए सनातन परंपरानुसार साल में एक ही दिन आता है, जिसे सर्व पितृ अमावस्या कहा जाता है। जो भूले-चूके ज्ञात-अज्ञात पूर्वजों पितृगणों का श्राद्ध तर्पण नही कर पाते, वह श्राद्ध के अन्तिम दिन सर्वपितृ श्राद्ध (अमावस्या) को जलांजलि (तर्पण) कर अपने पूर्वजों का आशीष पा सकते हैं।

तर्पण में सर्वप्रथम देव तर्पण, ऋषि तर्पण, दिव्य मनुष्य तर्पण, दिव्य पितृ तर्पण, मनुष्य पितृ तर्पण, यम तर्पण, भीष्म तर्पण आदि क्रम से 6 प्रकार से तर्पण का आयोजन किया गया। इस मौके पर कन्हैयालाल चौधरी, दिनेश चौरासिया, रोहिताश कुमावत, कवि प्रदीप पंवार, बालकिशन अग्रवाल, मोहन गुर्जर (उस्ताद), सत्यनारायण नामा, रामकिशन काहाल्या, दिनेश गोठवाल, राजेन्द्र चौरासिया, अरविंद जौहरी, विष्णु शर्मा, भजनलाल सैनी, बृजबिहारी शर्मा, राजेश मूमिया, राजेश शर्मा, एडवोकेट आनंद गोयल, मुकेश गौत्तम, रवि शर्मा, बद्री गुर्जर, मदन बैरवा, ओम गुर्जर, राजेन्द्र सैनी बबलू टैंकर, शंकर विजय, ओमप्रकाश पांडे, डाॅ. प्रदीप गहलोत, शैलेन्द्र गर्ग, डाॅ. विशाल अग्रवाल, कमलेश कुमावत, रतनलाल बैरवा, राजेन्द्र बैरवा, नीरज गौत्तम, कंवरपाल गुर्जर, जयनारायण महावर, श्याम तोषनीवाल, विवेक शर्मा, प्रशांत बुंदेल, राधेश्याम साहू, रामचरण साहू, मोहित सोनी, महेश भारद्वाज, विजय भारद्वाज, रामलाल वर्मा, इन्दिरा शर्मा, मीना सागर, रमा गुर्जर, मधु तोषनीवाल, गुड्डी शर्मा, गल्लो गुर्जर आदि महिला-पुरुषों तर्पण में अपने पूर्वजों जलांजलि देकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

खबरें और भी हैं...