पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मरीजों को मिलेगी राहत:सआदत अस्पताल में बनेगा एक और ऑक्सीजन प्लांट, 100 सिलेंडर राेज हो सकेगा उत्पादन, नगर परिषद ने दी मंजूरी

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर परिषद एक करोड़ की लागत से बनाएगी ऑक्सीजन प्लांट, आवश्यक प्रक्रियाएं शुरू, एक महीने में हो जाएगा काम पूरा

जिले में ऑक्सीजन की समस्या से निजात दिलाए जाने के प्रयास तेज हो गए हैं। हालांकि सब कुछ ठीक रहा तो, एक माह बाद जिले में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं रहेगी, लेकिन फिलहाल तो कई मरीजों को अभी पूरी तरह राहत नहीं मिल सकी है। लेकिन आगामी दिनों में जिस प्रकार ऑक्सीजन प्लांट आदि की योजनाएं सामने आ रही है।

उससे ऐसा लग रहा है कि आगामी माह में कोई भी व्यक्ति कम से कम ऑक्सीजन की समस्या का शिकार तो नहीं होगा। लेकिन पूरी तरह कुछ कहना अभी मुश्किल भी लग रहा है। क्योंिक प्रशासन पूर्व में भी ऑक्सीजन सिलेंडर व व्यवस्था पर्याप्त बता रहा था। लेकिन ऑक्सीजन की कमी से कई मरीजों को भर्ती तक नहीं किया गया।

ऐसी स्थितियां सामने आई। वर्तमान में भी नए मरीजों के लिए व्यवस्थाएं नहीं होने की स्थितियां बनी हुई है। बहरहाल कोविड-19 के संक्रमण के प्रकोप से अधिक से अधिक लोगों की जान बचाने के लिए राज्य सरकार स्वायत्त शासन विभाग जयपुर द्वारा टोंक शहर में आॅक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए नगर परिषद ने स्वीकृति जारी की है।

ऑक्सीजन प्लांट लगाने की प्रक्रिया पूर्ण की जा रही है। अतिशीघ्र कार्य आदेश जारी कर प्लांट स्थापित किया जाएगा। प्लांट लगाने के लिए सभापति अली अहमद द्वारा सहमति दे दी गई है। प्लांट स्थापित करने पर लगभग 1 करोड़ रुपए का व्यय होगा। जिसे नगर परिषद वहन करेगी। उक्त प्लांट स्थापित होने से प्रतिदिन 100 सिलेण्डर आॅक्सीजन का उत्पाद होगा। जिससे वर्तमान में आ रही आॅक्सीजन की कमी से अधिक से अधिक आमजन को राहत मिलेगी।

नगर परिषद आयुक्त धर्मपाल जाट ने बताया कि फिलहाल तो पूरी तरह तय नहीं हुई है, लेकिन सआदत अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट बनाए जाने पर चर्चा हो रही है। कार्य आदेश जारी होने के बाद एक महीने में ये प्लांट बनकर तैयार हो जाएगा।

ये भी चल रहा है कार्य

जिले के सबसे बड़े सआदत अस्पताल में वर्तमान में करीब 35 सिलेंडर प्रतिदिन उत्पादन करने वाला प्लांट संचालित है। वहीं 65 सिलेंडर प्रतिदिन उत्पादन के लिए कार्य शुरू हो गया है। ये कार्य एक माह में पूरा हो जाएगा। इसी प्रकार जिले की अन्य नगर पालिकाओं सहित अन्य जगह भी ऑक्सीजन के लिए योजनाएं तैयार हो गई है। इससे स्पष्ट होने लगा है कि सबकुछ ठीक रहा तो एक माह बाद कोई भी मरीज ऑक्सीजन की कमी से परेशान नहीं होगा।

विधायक ने की मालपुरा में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए एक करोड़ रुपए देने की घोषणा

राज्य सरकार ने मंजूरी नही दी तो विधायक कन्हैया लाल चौधरी ने कोरोना रोगियों की जरूरत को देखते हुए मालपुरा में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए विधायक कोष से एक कतोड़ रुपए देने की घोषणा कर विधानसभा क्षेत्र के लिये विशेष व्यवस्था की है।

पत्रकारों से बात करते हुए विधायक कन्हैया लाल चौधरी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि राज्य सरकार द्वारा टोंक जिले के 3 विधानसभा क्षेत्रों में विधायक कांग्रेस का होने के कारण ऑक्सीजन प्लांट दिए गए हैं और मालपुरा विधानसभा क्षेत्र में विधायक भारतीय जनता पार्टी से होने के कारण यहां ऑक्सीजन प्लांट नहीं दिया गया।

खबरें और भी हैं...