शिविर:शिविर में राजस्व कर्मचारी अनुपस्थित रहे, नहीं हो सके ग्रामीणों के काम

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रशासन गांवों के संग अभियान में राजस्व विभाग के अधिकारी व कर्मचारी के शिविर में गैर हाजिर रहने ग्रामीणों की समस्याओं को निस्तारण नहीं होने से पंचायत कुहाड़ा बुजुर्ग के ग्रामीणों ने पूर्व उपप्रधान जगदीश घटाला की अगुवाई में शिविर प्रभारी एसडीएम रूबी अंसार को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर शिविर में राजस्व संबंधित कार्य का निस्पादन करने की मांग की है। ज्ञापन में बताया कि राजस्थान सरकार द्वारा प्रशासन गांवों के संग अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें ग्रामीणों को सबसे महत्वपूर्ण कार्य राजस्व विभाग से रहता है।

पंचायत कुहाड़ा बुजुर्ग में सोमवार को आयोजित शिविर में राजस्व विभाग से तहसीलदार, नायब तहसीलदार, ऑफिस कानूनगो, गिरदावर तथा पटवारी आदि आंदोलनरत होने पर उपस्थित नहीं रहने से ग्रामीणों के अधिकांश कार्य नहीं हो पाए है। जिसके चलते शिविर में सीमाज्ञान, पत्थरगढी, आबादी विस्तार, भूमि आवंटन, सार्वजनिक प्रयोजनार्थ भूमि आवंटन, जाति प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र, हैसियत प्रमाण पत्र, कृषि जोत की पासबुक, राजस्व रिकॉर्ड में दुरूस्तिकरण, गैर खातेदारी से खातेदारी, सहमति विभाजन, राजस्व नकलंे, शुद्धिकरण, 136 की कार्यवाही तथा नामातंकरण सहित न्यायालय संबंधित कार्य प्रभावित हो रहे है। ज्ञापन में बताया कि राजस्व अधिकारी व कार्मिकों ने अभियान का बहिष्कार किया गया था, ऐसे में शिविर का आयोजन दुबारा दिवस तय कर आयोजित करवाया जाए, ताकि ग्रामीणों, किसानों व गरीबों को राहत मिल सकें। ज्ञापन देने वालों में कालूराम, सोभागमल, शंकरलाल, रतनलाल, वैजनाथ, गोपाल, सुरेश जाट सहित बडी संख्या में ज्ञापन दिया है।

खबरें और भी हैं...