पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अवैध बजरी खनन:बनास में अवैध बजरी खनन के संकेत मिले, परिवहन करता कोई नहीं मिला

टोंकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित सेंट्रल एम्पावर्ड कमेटी ने लिया बनास नदी में अलग अलग जगह किया निरीक्षण

सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित सेंट्रल एम्पावर्ड कमेटी (सीएसी) ने शनिवार को प्रशासन, पुलिस व माइनिंग अधिकारियों के साथ बनास नदी के अवैध खनन प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। टीम को प्रशासन और खनिज विभाग की ओर जारी रुट चार्ट के आधार पर नदी में अलग-अलग जगहो पर किए निरीक्षण में प्रारम्भिक तौर पर अवैध बजरी खनन के संकेत मिले हैं। हालांकि निरीक्षण के दौरान टीम को खनन या परिवहन करते कोई नही मिला। इसपर टीम के साथ मौजूद रहे 2016 में बजरी खनन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाने वाले आनंदसिंह जोड़ी ने मीड़िया से बातचीत में स्थानीय प्रशासन और खनिज विभाग की ओर से तय किए टीम के रूट चार्ट पर ही सवाल खडे किए। दरअसल तीन साल पहले सुप्रीम कोर्ट की ओर से जिले सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों में बजरी खनन की रोक लगाई गई थी, लेकिन इसके बनास में खनन रोकथाम पाने में प्रशासन कामयाब नही रहा। ऊपर से सरकार को राजस्व का भी लगातार नुकसान हो रहा था। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित तीन सदस्यीय सीएसी के अध्यक्ष पीवी जयकृष्णन के अलावा सदस्य अमरनाथ शेट्टी और सदस्य महेंद्र व्यास ने जिलेभर में खनन प्रभावित क्षेत्रों को दौरा किया।

रुट चार्ट पर सवाल : सेंट्रल एम्पावर्ड कमेटी के साथ चल रहे 2016 में बजरी खनन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाने वाले आनंदसिंह जोड़ी ने मीड़िया को बताया कि विभाग के अधिकारियों द्वारा दिया गए रुटचार्ट में खनन प्रभावित क्षेत्र की जगह सामान्य जगहों पर टीम को ले जाया गया। इसके अलावा उन्होने सुप्रीम कोर्ट की रोक के बावजूद चल रहे अवैध बजरी खनन पर रोक लगाने के लिए लीगल माइंनिंग की वकालत भी हैं, क्योंकि 2016 में पर्यावरण और नदी बचाने के जिस उद्देष्य से याचिका लगाई गई थी वह तो पूरा नही हुआ उसके उपर अवैध खनन माफियाओं ने अवैध खनन से नदी की तस्वीर ही बदल दी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें