पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पेयजल के लिए सड़कों पर उतरे लोग:अलीगढ़ में गड़बड़ाई पेयजल व्यवस्था को लेकर युवाओं का फूटा गुस्सा, विरोध प्रदर्शन के बाद धरने पर बैठे

टोंक5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अलीगढ़ में धरने पर बैठे वार्ड के लोग। - Dainik Bhaskar
अलीगढ़ में धरने पर बैठे वार्ड के लोग।

अलीगढ़ कस्बे में तीन माह से गड़बड़ाई पेयजल व्यवस्था को लेकर गुरुवार को आखिरकार लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। लोग दोपहर को पंचायत समिति परिसर में विरोध प्रदर्शन कर धरने पर बैठ गए। बाद में बीडीओ को ज्ञापन देकर पेयजल सप्लाई सुचारु करवाने की मांग की।

ज्ञात रहे कि वर्ष 2007-08 में बीसलपुर पेयजल योजना का शुभारंभ हुआ था। जिसका मुख्य कार्यालय अलीगढ़ कस्बे के डाक बंगले में बनाया गया था। जहां से अलीगढ़ सहित कई गांव में पेयजल व्यवस्था सुचारु की जानी थी ताकि लोगों को आसानी से मीठा जल उपलब्ध हो सके जिसके लिए यह योजना शुरुआत में तो कछुआ चाल से चलती रही।

आखिरकार गत वर्ष से इस योजना से अलीगढ़ कस्बे के लोगों को पेयजल सप्लाई होने लगा लेकिन आज भी कस्बे के कई मोहल्लों में बीसलपुर पेयजल योजना का पानी सप्लाई नहीं हो रहा है। वहीं ग्राम पंचायत प्रशासन भी पेयजल व्यवस्था को सुचारू नहीं कर पा रही है।

इसके बाद कस्बे के लोगों का सब्र टूट गया और गुरुवार को ग्राम पंचायत एवं पंचायत समिति मुख्यालय पर जमकर विरोध प्रदर्शन कर नाराजगी जताई वहीं पंचायत समिति परिसर में अनिश्चित कालीन धरना भी शुरू कर दिया। धरने में वार्ड पंच अशोक सैनी मनोरंजन शर्मा, महावीर सैनी पप्पू माली राम देवा सहित कई लोग शामिल थे

सांसद, जिला प्रमुख समेत अन्य को अवगत करा चुके है

गत दिनों अलीगढ़ कस्बे में आए सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया को भी भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर खरी खोटी सुनाते हुए आरोप लगाया कि कार्यकर्ता बूथ से एक-एक वोट निकाल कर लाते हैं लेकिन बाद में जन प्रतिनिधि समस्या के प्रति ध्यान नहीं देते हैं। वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं ने वर्तमान विधायक पर भी पेयजल समस्या के प्रति उदासीनता बरतने का आरोप लगाया है। इसके अलावा जिला प्रमुख ने भी गत दिनों अलीगढ़ दौरे के दौरान पेयजल समस्या को गंभीरता से लेते हुए अधिकारियों को निर्देशित कर समस्या समाधान करने के निर्देश दिए थे।

खबरें और भी हैं...