गंदगी बनी कारण:टोडा में पम्प हाउस पर हजारों मक्खियों ने डाला डेरा

टोंकएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • पास के कचरा डिपो से उड़कर डाल रही पड़ाव, स्टाफ का काम करना हुआ मुश्किल

टोडारायसिंह शहर में स्वास्थ्य से जुडे बीसलपुर पेयजल योजना के पम्प हाउस पर इन दिनों भारी संख्या में मक्खियों के डेरा डाल देने से एक ओर जहां वातावरण दूषित हो रहा है वही स्टाफ को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मक्खियां पम्प हाउस के उपकरणों व सामान आदि पर बैठने से स्टाफ की परेशानी बढ़ गई है। वही यहां से पेयजल सप्लाई होने से यह स्वास्थ्य से जुड़ा मामला है। वहां के कार्यरत स्टाफ ने बताया कि मक्खियां इतनी तादाद मे बढ़ गई है कि उनको उड़ाते उड़ाते परेशान हो गए है। हालात यह है कि पास ही बने कचरा डिपो में जमा गंदगी से सैकडों की संख्या में मक्खियां उड़कर पम्प हाउस पर पहुंच जाती है। इस ओर समाधान नही होने से स्टाफ की मुश्किलें बढ़ी हुई है। स्टाफ के कार्मिकों ने बताया कि पम्प हाउस पर मेडिकल टीम से फोगिंग व पाउडर का छिड़काव करवाया जाना चाहिए। ताकि कुछ हद तक मक्खियां नियंत्रित हो सके। बीसलपुर के पम्प हाउस के पास ही शहर का कचरा डिपो बना है। जहां पर शहर का सारा कचरा व गंदगी एकत्र की जाती है। इससे वहां गंदगी के ढेरों पर बैठने वाली हजारों की संख्या में मक्खियां बैठती है। वहां से उड़ कर आस पास बैठती है। उधर इस संबंध में जलदाय विभाग के सहायक अभियंता प्रवांशु विजयवर्गीय ने बताया कि बीसलपुर पेयजल योजना के पम्प हाउस के पास ही कचरा डिपो है। वहां से मक्खियां उड़ कर पम्प हाउस में पहुंचती है। इसके समाधान हेतु नगर पालिका को चिठ्ठी लिखेंगे और समाधान करवाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...