पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Tonk
  • Water Increased By 10 Cm In 24 Hours, Due To Rain In The Catchment Area, The Inflow Of Water Increased For Two Days, This Season Was The Highest In One Day

बीसलपुर बांध में बढ़ी पानी की आवक:24 घंटे में ही बढ़ा 10 cm पानी, कैचमेंट एरिया में अच्छी बारिश होने से 2 दिन में बढ़ा जलस्तर, त्रिवेणी का गेज 3.50 मीटर चल रहा

टोंक10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बीसलपुर बांध। - Dainik Bhaskar
बीसलपुर बांध।

जिले के अधिकांश हिस्सों सहित बीसलपुर बांध के कैचमेंट एरिया में बारिश होने से पानी की आवक बढ़ने लगी है। 24 घंटे में ही बीसलपुर बांध में 10 cm पानी की आवक हुई है। इसी के साथ अब बांध में पेयजल आपूर्ति के पर्याप्त पानी की आवक की उम्मीद जगी है।

जिले में ही नहीं प्रदेश के बड़े बांधों के शुमार बीसलपुर बांध टोंक सहित जयपुर, अजमेर जिलों की लाइफ लाइन है। इस बांध पर इन तीनों जिलों की करीब 50 लाख की आबादी निर्भर है। इससे रोजाना बीसलपुर बांध से करीब 900 एमएलडी पानी दिया जाता है, लेकिन बांध में पानी की कमी से अभी रोजाना 25-30 एमएलडी पानी की कटौती की जा रही है। इस कारण बांध पर निर्भर 50 लाख आबादी पर आगामी दिनों में और भी पेयजल संकट मंडराता दिख रहा है। इस बीच 2 दिन से बीसलपुर बांध के कैचमेंट एरिया भीलवाड़ा में हो रही तेज बारिश से बांध के पानी की आवक बढ़ने लगी है। सुबह 8 बजे तक बीते 24 घंटे में बीसलपुर बांध में 10 सेमी पानी की आवक हुई है। जो इस सीजन में एक दिन में सबसे अधिक आवक है।

कैचमेंट एरिया में बारिश कम होने से पानी की आवक कम

इस साल बीसलपुर बांध में उसके कैचमेंट एरिया में बारिश कम होने से पानी की आवक काफी कम हुई है। इस साल जून 2021 में बांध में पानी का न्यूनतम स्तर 309.36 आरएल मीटर था। अभी तक हुई बारिश के बाद यह बढ़कर हाईएस्ट 310.82 आरएल मीटर तक रहा था। जो अभी 310.73 आरएल मीटर पर पहुंच गया है । यह आंकड़ा भी पिछले दो दिनों से थोड़ा सुधार है। दो दिन पहले तो आंकड़ा करीब 310.60 आरएल मीटर ही था। रोजाना एक सेमी पानी पेयजल में जा रहा है। सर पर बांध परियोजना के एक्सईएन मनीष बंसल, एईएन प्रतीक चौधरी ने बताया कि बांध में अभी पानी की आवक दो दिन से पहले के मुकाबले ठीक बनी हुई है। अभी त्रिवेणी का गेज 3.50 मीटर चल रहा है।

खबरें और भी हैं...